Thursday, May 24,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
हरियाणा

आंगनबाड़ी वर्करों ने फूंका मंत्री कविता जैन का पुतला

Publish Date: February 14 2018 08:24:49pm

कुरुक्षेत्र (पंकज अरोड़ा): सरकारी कर्मचारी घोषित करने, न्यूनतम वेतनमान देने की मांगों को लेकर आंगनबाड़ी वर्करों, हैल्परों एवं खाना बनाने वाली मदर गु्रप की महिलाओं द्वारा जिला मुख्यालय पर अनिश्चितकालीन धरना तीसरे दिन में प्रवेश कर गया। बुधवार को आंगनबाड़ी एवं हैल्पर्स यूनियन ने नए बस अड्डे के समीप जोरदार नारेबाजी कर महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन का पुतला फूंका। आंदोलनरत महिलाओं ने सरकार को चेतावनी दी है कि यदि उनकी मांगों को पूरा नहीं किया गया तो अपने आंदोलन को और अधिक तेज कर देंगी तथा जीटी रोड जाम करने से भी गुरेज नहीं करेंगी। महिलाओं ने तहसीलदार को अपनी मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपा। आंगनबाड़ी वर्करों व हैल्परों ने निर्णय लिया है कि वे 15 फरवरी को काला दिवस मनाएंगी तथा काले कपड़े पहनकर अपना विरोध प्रदर्शन करेंगी। इस धरना प्रदर्शन में जिला भर से सैकड़ों वर्करों व हैल्परों ने भाग लिया। उन्होंने कहा कि उनका यह धरना प्रदर्शन तब तक जारी रहेगा जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होती। इससे पहले जिला भर की आंगनबाड़ी वर्कर, हैल्पर व मदर गु्रप की महिलाएं द्रोणाचाये स्टेडियम पर एकत्रित हुई और वहां से पुतले के साथ सरकार के खिलाफ नारेबाजी व प्रदर्शन करते हुए सैक्टर-13 की मार्केट से होते हुए जोरदार नारेबाजी के साथ नए बस अड्डे के पास पहुंची और वहां ं महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन का पुतला फूंका। उन्होंने वहां सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की तथा सरकार को चेतावनी दी कि यदि शीघ्र ही उनकी मांगें नहीं मानी गई तो वे कोई भी कड़ा कदम उठाने से पीछे नहीं हटेंगी।

यूनियन की जिला सचिव कलावती ने महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि अब सरकार से अपना हक लेकर ही चैन से बैठेंगी। इसलिए जब तक उनको सरकारी कर्मचारी घोषित नहीं किया जाता तब तक वे अपना आंदोलन जारी रखेंगी। उन्होंने बताया कि उनकी मांग है कि आंगनबाड़ी वर्करों व हैल्परों को तृतीय व चतुर्थ श्रेणी का कर्मचारी घोषित किया जाए तथा जब तक कर्मचारी घोषित नहीं किया जाता तब तक उन्हें सरकार द्वारा घोषित न्यूनतम वेतन आंगनबाड़ी वर्कर को 18000 रुपये व हैल्पर को 15000 रुपये वेतन दिया जाए, सुपरवाइजरों के सभी पद वर्करों की पदोन्नति से भरे जाएं, प्रत्येक माह की 7 तारीख तक वेतन देना सुनिश्चित किया जाए, सरकारी स्कूलों की तरह गर्मी व सर्दी की छुट्टियों में बच्चों के साथ साथ उनकी भी छुट्टियां की जाएं, आंगनबाड़ी केंद्रों का किराया समय पर दिया जाए,  वर्कर का खाली पद सीधा पात्र हैलपर से ही भरा जाय न कि साक्षात्कार से, खाना बनाने के लिए सरकार खुद सिलेंडर की सप्लाई करें, क्योंकि 30 पैसे प्रति लाभार्थी के अनुसार मिलने वाले पैसे से सिलेंडर नहीं भर सकता है, न ही समय पर ईंधर का पैसा मिल रहा है। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


दक्षिण अफ्रीका को बड़ा झटका, एबी डिविलियर्स ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा

जोहान्सबर्ग (उत्तम हिन्दू न्यूज): दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज बल...

साहिल खट्टर 'द एक्स्पीाडिशन' के लिए पालियो डाइट पर

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): यूट्यूब चैनल 'बींग इंडियन'...

top