Saturday, July 21,2018     ई पेपर
हरियाणा

गु्रप डी के 38 हजार पदों की भर्ती प्रक्रिया जल्द होगी शुरू : मनोहर 

Publish Date: April 05 2018 12:58:57pm

चंडीगढ़  (मोहन अरविंद): हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा है कि प्रदेश सरकार जल्द ग्रुप डी के 38 हजार पदों की भर्ती प्रक्रिया शुरू करने जा रही है, जिसमें विशेष रूप से गरीब समाज के युवाओं को रोजगार अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि हरियाणा में ऐसी सरकार बनाने की परंपरा थी, जो योग्य युवाओं का हक मारकर 35 वर्षों के लिए अयोग्य लोगों को भर्ती करते रहे थे। लेकिन भाजपा सरकार ने इस परंपरा को बंद करते हुए बैकलाग को भी भरने की दिशा में अहम कदम उठाया है।

मुख्यमंत्री आज अपने आवास पर प्रदेशभर से आए वाल्मीकि समुदाय के प्रतिनिधियों से मुलाकात कर रहे थे। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण कुमार बेदी, विधायक संतोष सारवान, बिशंभर वाल्मीकि, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार दीपक मंगला, मुख्यमंत्री के निजी सचिव राजेश गोयल, भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी राजीव जैन, भाजपा प्रदेश एससी मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष एवं हरियाणा सफाई कर्मचारी आयोग चेयरमैन रामअवतार वाल्मीकि की मौजूदगी में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने समाज से जुड़े लोगों का एक-एक कर परिचय लिया तथा आत्मीयता के साथ मुलाकात की।  मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा कि प्रदेश सरकार गरीब एवं पिछडा वर्ग के हित के लिए दशकों से उनकी बैकलाग को भरने की मांग को पूरा करने जा रहे हैं और इस संबंध में मुख्य सचिव को विशेष भर्ती निकालने के आदेश दिए जा चुके है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने निर्णय लिया है कि भविष्य में सफाईकर्मी और चौकीदार के लिए शैक्षणिक शर्त नहीं होगी। उन्होंने कहा कि 11 जिलों में समाज के युवाओं को अच्छी शिक्षा के लिए हास्टल का निर्माण, 7 जिलों में अंत्योदय सेवा केंद्र प्रारंभ किए जाएंगे। इसके बाद अंत्योदय सेवा केंद्र सभी जिलों में खोलते हुए उपमंडल स्तर पर शुरू करने की योजना है।

इस अवसर पर सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के दिल में गरीबों के प्रति जो दर्द है उसको शब्दों में व्यक्त नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि गत 24 अक्तूबर को मुख्यमंत्री ने वाल्मिकी सम्मेलन में जो घोषणाएं की थी वो लगभग पूरी हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों ने वाल्मिकी समाज को केवल गुमराह करने का काम किया है जबकि 21 साल बाद वर्तमान सरकार के कार्यकाल में ही इस समाज को उचित प्रतिनिधित्व मिला है। समुदाय के लोगों ने कैथल में महर्षि वाल्मीकि के नाम पर संस्कृत विश्वविद्यालय खोलने, हरियाणा सफाई आयोग का गठन करने, गांव मिर्चपुर के पीडित वाल्मीकि समुदाय के लोगों के रहने के लिए गांव ढंढूर में साढे सात एकड़ जमीन पर प्लाट देने, ठेके के आधार पर की जाने वाली भर्तियों में आरक्षण का प्रावधान शुरू करने के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल का आभार जताया। 


यही नहीं लोगों ने योग्यता के आधार पर नौकरी देने, पढ़ी-लिखी पंचायतें बनाने, सफाई कर्मचारियों के वेतन में 1900 रुपये प्रतिमाह की बढ़ोतरी करने व विकास कार्यों में पारदर्शिता लाने जैसे काम गिनवाते हुए कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में गरीब का सरकार व प्रशासन के प्रति विश्वास बढ़ा है। इस मौके पर हरियाणा सफाई कर्मचारी आयोग वाइस-चेयरमैन कृष्ण कुमार, सदस्य रामफल लोहट, चंद्रप्रकाश बोसती, मोहनलाल बदन, आजाद सिंह व सुनीता अरड़ाना भी मौजूद रहे।    

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


फखर जमान ने रचा इतिहास , एेसा करने वाले पहले पाकिस्तानी बल्लेबाज बने

बुलावायो (उत्तम हिन्दू न्यूज): बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज फखर...

मुश्किलों में फंसे रणबीर कपूर, इस महिला ने ठोका 50 लाख का मुकदमा

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): संजय दत्त की बायॉपिक पर बनी फिल...

top