Saturday, July 21,2018     ई पेपर
हरियाणा

हरियाणा में शिअद (ब) का चुनाव लडऩे का उद्देश्य सिखों को दोफाड़ करना : झिंडा

Publish Date: April 08 2018 02:44:09pm

करनाल (आशुतोष गौतम) :  हरियाणा सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की मीटिंग राज्य युवा प्रधान हरप्रीत सिंह नरूला के कार्यालय में हुई। अध्यक्षता प्रधान जगदीश सिंह झिंडा ने की। मीटिंग के बाद झिंडा ने पत्रकारों से कहा कि शिरोमणि कमेटी अमृतसर ने जो बजट पास किया है उसमें हरियाणा प्रांत के गुरुद्वारों, अस्पतालों व शिक्षा के लिए नाममात्र ही बजट रखा है। मेडिकल मीरी पीरी कालेज शाहबाद के लिए हरियाणा कमेटी ने 100 करोड़ की मांग रखी थी, परंतु शिरोमणि कमेटी ने केवल तन्खवाह के लिए छह करोड़ ही पाए किए हैं। इससे शिरोमणि कमेटी अमृतसर की मंशा हरियाणा में कोई भी पैसा लगाना ही नहीं चाहती। न तो आजतक मीरी पीरी मेडिकल के लिए एनओसी लेना ही नहीं चाहती। हरियाणा के सिख नौजवानों को बहुत नुकसान हो रहा है।

झिंडा ने कहा कि शिरोमणि के जत्थेदार गुरबचन सिंह से मांग की है कि जो हमारा केस सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है उसे वापस करवाए ताकि संगतों का चढ़ावा वकीलों को न जाकर संगत की भलाई के लिए खर्च किया जा सके। झिंडा ने कहा कि भाई गुरबक्श सिंह खालसा को हरियाणा कमेटी ने एक लाख रुपए दिए हैं। शिरोमणि कमेटी खालसा परिवार को एक करोड़ रुपए दिया जाए। उन्होंने कहा कि हरियाणा में बादल अकाली दल का हरियाणा में चुनाव लडऩे का उद्देश्य केवल हरियाणा के सिखों को दो फाड़ करना है।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


फखर जमान ने रचा इतिहास , एेसा करने वाले पहले पाकिस्तानी बल्लेबाज बने

बुलावायो (उत्तम हिन्दू न्यूज): बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज फखर...

मुश्किलों में फंसे रणबीर कपूर, इस महिला ने ठोका 50 लाख का मुकदमा

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): संजय दत्त की बायॉपिक पर बनी फिल...

top