Tuesday, August 14,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
हरियाणा

एक साल बाद भेजा 2.33 लाख का बिल, उपभोक्ता के छूटे पसीने

Publish Date: August 10 2018 08:53:46pm

पंचकूला (अग्निहोत्री) : उत्तर हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम लूट सके तो लूट की कहावत को चरितार्थ करते हुए उपभोक्ताओं को इस कद्र चूना लगा रहा है कि उपभोक्ताओ को नए मीटर लगाने के बाद वहां न तो कोई रीडिंग लेने जाता है और न ही महीने के महीने बिल भेजा जाता है। नतीजा उपभोक्ता को सीधे एक साल का करीब ढाई लाख बिल भेज दिया, जिससे उपभोगता के पसीने छूट गए। हालांकि उपभोक्ता ने कई बार संबंधित एसडीओ को पेश आ रही समस्याओं का हल करवाने की गुहार लगाई लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। सरकार के जन शिकायत विंडो के दावे भी आधारहीन साबित हो रहे है।

पंचकूला के सेक्टर 12 के  मकान नंबर 870 की संगीता ने बताया कि उन्होंने जून 2017 में बिजली का मीटर लगवाया था जिसके बाद विभाग का कोई भी कर्मचारी मीटर रीडिंग लेने के लिए नहीं आया। उनके पति राकेश धीमान ने इसकी सूचना विभाग को दी लेकिन रीडिंग लेने तो कोई नहीं पहुंचा परंतु बगैर रीडिंग के दो माह बाद 10 हजार रूपए का बिल जरूर आ गया। राकेश धीमान ने कहा कि उन्होंने अधिकारियां को पूछा तो उन्होंने कहा कि आप बिल भर दो, बाद में सही हो जायेगा। लेकिन फिर भी कोई रीडिंग लेने के लिए नहीं आया और बिल एवरेज बेस पर ही आते रहे। उन्होंने कहा कि अप्रैल 2018 में उनका बिल एक लाख 88 हजार रूपए आया जिसके बाद उनके पसीने छूट गए। उन्होंने इसे सही करवाने के लिए कहा तो अधिकारियों ने कहा कि सही हो जायेगा लेकिन कुछ नहीं हुआ। किसी ने सुनवाई नहीं की उल्टा अब 27 जुलाई को उन्हें दो लाख रूपए का बिल थमा दिया गया।

राकेश धीमान ने बताया कि बगैर रीडिग़ लिए उपभोक्ताओं को लाखों के बिल थमाए जा रहे है। उन्होंने कहा कि वह बार-बार एसडीओ के सेक्टर 15 स्थित पॉवर कालोनी के चक्कर काट रहे है लेकिन कोई सुनवाई नहीं कर रहा है।

महीने की कम रेट की यूनिट का नहीं मिल रहा लाभ
राकेश धीमान ने बताया कि एक महीने में करीब 400 यूनिट पर कम रेट का लाभ उपभोक्ता को दिया जाता है लेकिन उन्हें इसका लाभ भी नहीं मिला क्योकि बिल एक साल का भेजा दिया गया। उन्होंने आरोप लगाते कहा कि विभाग लूट सके तो लूट की कहावत पर चल रहा है जिससे उपभोक्ता परेशान हो रहे है। उन्होंने कहा कि सरकार सही काम कर रही है लेकिन अधिकारी व कुछ कर्मी कथित रुप से लोगों को परेशान करते है जिसकी जांच की जानी चाहिए।

मामले की जांच की जाएगी: एसडीओ 
संबंधित एसडीओ रोहिला ने कहा कि इस मामले की जांच की जायेगी। उन्होंने कहा कि एक साल का बिल नहीं भेजा जा सकता अगर ऐसा हुआ है तो वह जांच करवाएंगे।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


भारतीय महिला हैंडबाॅल टीम की भी हार से शुरूआत

जकार्ता (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय पुरूष हैंडबॉल टीम की तरह महिला टीम की भी 18वें एशियाई...

आलिया ने रणबीर के साथ अपने संबंधों पर उड़ अफवाहों पर दिया ये बयान

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : अभिनेत्री आलिया भट्ट का कहना है कि वह अफवाहों पर ध्यान नहीं द...

top