Saturday, June 23,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
हिमाचल प्रदेश

खाई में गिरी कार, तीन युवकों की मौत, एक घायल

Publish Date: January 14 2018 11:54:48am

शिमला (ऊषा शर्मा) : रफ्तार के कहर ने फिर एक परिवार के चिराग को उसके जन्मदिन के दिन ही मौत की नींद सुला दिया। दुर्घटना का शिकार होकर मौत की चिरनिंद्रा में सोने वाले विक्रांत का 13 जनवरी को जन्मदिन था। 31 वर्षीय विक्रांत मिड-डे हिमालयन में बतौर फोरेस्ट गार्ड तैनात था। वह रोहड़ू के खशकांदी गांव का रहने वाला था। विक्रांत का एक छोटा बच्चा है। जन्मदिन सेलेब्रेट कर वह अपने 3 दोस्तों खुशविंद्र, सुल्तान और अश्वनी  के साथ अपनी कार में घर से निकला था। विक्रांत अब कभी घर नहीं लौटेगा। हादसे ने उसकी और उसके दोस्तों की जिंदगी पर पूर्ण विराम लगा दिया है। विदित हो कि बीती रात रोहड़ू से 2 किलोमीटर दूर पौड़ी ताल में एक मोड़ पर सेंट्रो कार (एचपी10ए-4006) हादसे का शिकार हुई। कार चालक विक्रांत ने संतुलन खो दिया और कार करीब 200 मीटर गहरी खाई में जा गिरी। हादसा इतना भयावह था कि कार के परखच्चे उड़ गए और विक्रांत व उसके दो अन्य दोस्त मौके पर ही मारे गए। जबकि एक अन्य घायल हो गया। माना जा रहा है कि तेज रफतार हादसे का कारण रही, क्योंकि चालक मोड़ पर कार को नियंत्रित नहीं कर पाया।

अन्य दो मृतकों की पहचान 28 वर्षीय खुसविन्दर और 26 वर्षीय सुल्तान के तौर पर हुई है। ये भी रोहडू के रहने वाले थे, जबकि घायल हुआ 24 वर्षीय अश्विनी कुमार कांगड़ा का निवासी था। ये चारों सरकारी विभागों में कार्यरत थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने इनको खाई में निकाला और अस्पताल पहुंचाया।डीएसपी रोहड़ू अशोक शर्मा ने बताया कि घायल अश्वनी कुमार की हालत में सुधार हो रहा है। वह सिविल अस्पताल रोहड़ू में उपचाराधीन है। तीन मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के उपरांत परिजनों को सौंप दिया गया है। उन्होंने कहा कि मामला दर्ज कर दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


डे-नाइट टेस्ट में श्रीलंका की कप्तानी करेगा यह खिलाड़ी

बारबाडोस (उत्तम हिन्दू न्यूज): श्रीलंका क्रिकेट (एसएलसी) ने वेस्टइंडीज के खिलाफ शनिवार से ...

जाह्न्वी, ईशान ने मुंबई पुलिस के मीम का कुछ यूं दिया जवाब

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): मुंबई पुलिस ने फिल्म 'धड़क' के एक संवाद का इस्तेमाल आम...

top