Saturday, July 21,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
अंतर्राष्ट्रीय

डोनाल्ड ट्रंप नैतिक रूप से राष्ट्रपति पद के योग्य नहीं : जेम्स कॉमे 

Publish Date: April 16 2018 12:29:33pm

वाशिंगटन (उत्तम हिन्दू न्यूज): संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) के पूर्व निदेशक जेम्स कॉमे ने मई 2017 में पद से हटाए जाने के बाद पहली बार दिए एक साक्षात्कार में डोनाल्ड ट्रंप को देश के राष्ट्रपति के तौर पर नैतिक रूप से अयोग्य बताया है। कॉमे ने रविवार रात को दिए साक्षात्कार में ट्रंप के मानसिक रूप से अयोग्य होने के दावों को खारिज किया। कॉमे ने कहा, "मैं आमतौर पर लोगों को इसके बारे में बात करते सुनता हूं। मैं नहीं समझता कि वह मानसिक रूप से अयोग्य हैं या उनमें भूलने की बीमारी के शुरुआती लक्षण हैं। मुझे वह औसत बुद्धि से ऊपर के शख्स लगते हैं, जो अपने आसपास की बातों को लेकर चौकन्ना हैं और उन्हें पता है कि क्या चल रहा है।" कॉमे ने कहा, "मुझे नहीं लगता कि वह राष्ट्रपति बनने के लिए मानसिक रूप से अयोग्य हैं। मुझे लगता है कि वह राष्ट्रपति बनने के लिए नैतिक रूप से योग्य नहीं है।"  उन्होंने कहा, "वह एक ऐसे शख्स हैं जो महिलाओं को गोश्त के टुकड़े की तरह समझते हैं, जो हर छोटी और बड़ी चीज के लिए झूठ बोलते हैं और समझते हैं कि अमेरिकी लोग उन पर विश्वास करते हैं। वह शख्स राष्ट्रपति बनने के लिए नैतिक आधार पर योग्य नहीं है।"

कॉमे का यह साक्षात्कार उनकी किताब 'ए हायर लॉयल्टी : ट्रुथ, लाइज एंड लीडरशिप' के विमोचन से पहले प्रसारित हुआ है। पेशे से वकील कॉमे ने एबीसी न्यूज को बताया कि वह नौ मई 2017 को लॉस एंजेलिस संघीय जांच ब्यूरो के कार्यालय के बीच में खड़े होकर कार्यालय के कर्मचारियों की मेहनत के लिए उनका आभार जता रहे थे कि उन्होंने टेलीविजन पर देखा, जहां फ्लैश हो रहा था कि 'कॉमे ने इस्तीफा दे दिया।' कॉमे ने कहा, "एफबीआई के बारे कई महान चीजों में से एक यह है कि हमारी टीम में कुछ बेहतरीन प्रैंकस्टर्स हैं और इसलिए मुझे लगा कि यह मेरे स्टाफ में से किसी की हरकत हो सकती है।" ब्यूरो में टीवी पर इस तरह की खबरें दिखाई जा रही थी। कुछ जगह 'कॉमे को बर्खास्त किया गया' भी दिखाया जा रहा था। कॉमे ने कहा कि उन्हें इन खबरों पर विश्वास नहीं हो रहा था। उन्होंने कहा कि खबर पर उन्हें लगा, "यह पागलपन है। ऐसा कैसे हो सकता है?"

कॉमे को तत्कालीन होमलैंड सिक्योरिटी सचिव जॉन कैली का फोन आया, जो इन खबरों से बहुत परेशान थे और इस्तीफा देने की सोच रहे थे। कॉमे ने कहा कि मैंने कैली से पद पर बने रहने का आग्रह किया। पूर्व एफबीआई निदेशक ने कहा कि वह वास्तव में ट्रंप से निजी तौर पर मुलाकात करने को लेकर बेचैन थे। कॉमे ने कहा, "मैं ऐसे शख्स से मिलने जा रहा था, जो मुझे जानता नहीं था, जो कुछ ही समय पहले अमेरिका का राष्ट्रपति चुना गया था। मुझे उनसे उन आरोपों को लेकर बात करनी थी कि वह (ट्रंप) रूस में वेश्याओं के संपर्क में थे और रूस के पास इसकी फुटेज है और रूस इसका फायदा उठा सकता है। यह पूछने पर कि क्या रूस के पास ट्रंप के खिलाफ कुछ है? इसके जवाब में कॉमे ने कहा, "मुझे लगता है कि ऐसा संभव है। मुझे नहीं पता। ये ऐसे शब्द हैं, जो मुझे नहीं लगता था कि मैं देश के राष्ट्रपति के बारे में कहूंगा लेकिन यह संभव है।" कॉमे ने बताया कि वह जानते थे कि पूर्व विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन के निजी ईमेल सर्वर की जांच के मामले से ट्रंप को चुनाव में कोई फायदा नहीं होने वाला।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


भारत ने ओलम्पिक चैंपियन इंग्लैंड से खेला 1-1 का ड्रा

लंदन (उत्तम हिन्दू न्यूज) : भारतीय महिला हॉकी टीम ने महिला विश्व कप हॉकी टूर्नामेंट में शन...

कॉमेडी फिल्में करना चाहते हैं जिम्मी शेरगिल

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): अभिनेता जिम्मी शेरगिल कॉमेडी फिल्में अधिक करना चाहते हैं। जिम्...

top