Sunday, December 16,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

कांग्रेस देश में बदलाव लेकर आएगी : राहुल 

Publish Date: March 17 2018 05:07:18pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि मोदी सरकार में देश थका सा महसूस कर रहा है और 2019 के आम चुनाव में बदलाव चाहता है और सिर्फ उनकी पार्टी आगे की राह दिखा सकती है। पार्टी के 84वें अधिवेशन में राहुल ने कहा कि बैठक का मकसद न सिर्फ कांग्रेस बल्कि पूरे देश के भविष्य की दिशा तय करना है। राहुल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी सरकार को निशाना बनाते हुए कहा कि देश 2019 के लोकसभा चुनावों में बदलाव की तलाश में है। उन्होंने सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर समाज को बांटने का आरोप लगाया और कहा कि सिर्फ कांग्रेस इस बंटवारे की दरार भर सकती है। राहुल ने कहा, "आज देश में गुस्सा फैल रहा है, देश को बांटा जा रहा है और लोगों को आपस में लड़ाया जा रहा है, लेकिन हमारा काम लोगों को साथ लाना है।" उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में युवाओं और किसानों सहित विभिन्न वर्गो के लोग निराशा महसूस कर रहे हैं। राहुल ने कहा, "करोड़ो युवा जो आज थका सा महसूस कर रहे हैं, जब वे मोदी की ओर देखते हैं..वे आगे की राह देखने में सक्षम नहीं हो पाते हैं।"

उन्होंने कहा, "वे नहीं जानते कि उन्हें कहां से रोजगार मिलेगा। किसानों को अपनी अनाज का उचित दाम कब मिलेगा। देश एक तरह से थक गया है और एक रास्ता तलाश रहा है।" कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वह दिल से कह रहे हैं कि सिर्फ कांग्रेस देश को रास्ता दिखा सकती है। उन्होंने कहा, "अधिवेशन का उद्देश्य कांग्रेस और देश को आगे की राह दिखाना है। यह भविष्य की बात कर रहा है, यह बदलाव की बात कर रहा है।" राहुल ने कांग्रेस की लड़ाई लडऩे और इसके प्रतीक की रक्षा के लिए अपनी मां सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम सहित पार्टी के नेताओं के योगदान को याद किया। कांग्रेस प्रमुख ने युवाओं और पार्टी में अनुभव के बीच संतुलन बनाने की जरूरत के बारे में बात की। 

उन्होंने कहा, "हमने अपनी परंपरा में बदलाव किया है लेकिन हम अपने अतीत को नहीं भूल सकते। युवाओं के बारे में बात होती है, लेकिन मैं इस मंच से कहना चाहता हूं कि युवा कांग्रेस को आगे ले जाएंगे, लेकिन अनुभवी नेताओं के बिना आगे नहीं बढ़ सकते। मेरा काम युवाओं और वरिष्ठ नेताओं को साथ लाना है।" राहुल ने कहा कि उनका काम पार्टी को एक नई दिशा दिखाना है। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी और विपक्षी पार्टी के बीच एक बड़ा फर्क यह है कि वे नफरत की विचारधारा का अनुसरण करते हैं, जबकि कांग्रेस प्रेम, सौहार्द और भाईचारा की विचारधारा का अनुसरण करते है। उन्होंने कांग्रेस पार्टी के प्रतीक चिन्ह 'हाथ' का जिक्र करते हुए कहा कि यह एक ऐसा प्रतीक है, जो सारे देश को एकजुट रखता है, आगे ले जाता है। इस अधिवेशन में देशभर से कांग्रेस के सदस्य शामिल हो रहे हैं। अधिवेशन के लिए समुचित व्यवस्था की गई है और रविवार को इसका समापन हो रहा है। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


Aus vs Ind: विराट कोहली ने रचा इतिहास, 25वां टेस्ट शतक जड़ तेंदुलकर को पीछे छोड़ा

पर्थ (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय कप्तान विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 25 शतक बना...

#MeToo की चिंगारी भड़काने वाली तनुश्री लौटेंगी अमेरिका, अपने बारे में किया बड़ा खुलासा 

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : भारत में मीटू की चिंगारी भड़काने...

top