Monday, December 10,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

देश के 60 शैक्षणिक संस्थानों को स्वायत्तता देने के खिलाफ जेएनयू के पूर्व छात्र उतरे सड़क पर 

Publish Date: March 23 2018 08:04:35pm

नयी दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : देश के 60 शैक्षणिक संस्थाओं को स्वायतत्ता देने के नाम पर निजीकरण करने का आरोप लगते हुए जहावर लाल नेहरु के शिक्षकों, छात्रों तथा पूर्व छात्रों ने आज संसद की ओर मार्च किया लेकिन पुलिस को उन्हें तितर-बितर करने के लिए पानी की बौछारें तथा लाठीचार्ज करनी पडीं। करीब तीन हज़ार छात्रों शिक्षकों ने हाथ में तख्तियां एवं बनेर लिए जेएनयू से दोपहर तीन बजे के करीब अपना मार्च शुरू किया और वे मुनिरका और सरोजनी नगर मार्किट पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें आगे जाने से रोक दिया। इसके बाद छात्रों तथा शिक्षकों ने जोरदार नारे लगाये और अपना विरोध प्रदर्शन किया। 

पुलिस ने प्रदर्शनकारी छात्रों पर पानी की बौछारें फेंकीं और उन्हें तितर-बितर करने की कोशिश की। इस दौरान पुलिस ने उनपर लाठीचार्ज भी किया जिसमें कुछ छात्र घायल हो गये। इसके बाद प्रदर्शनकारी छात्र और शिक्षक नारेबाजी करने लगे तथा सड़क पर ही धरना-प्रदर्शन करने लगे। इस बीच दिल्ली विश्विद्यालय के शिक्षक और छात्र उस मार्च में भाग लेने के लिए मंडी हाउस तथा संसद मार्ग पर जेएनयू की रैली का इंतज़ार करते रहे। लेकिन जब रैली में भाग लेने वाले लोग संसद मागज़् नहीं आ सके तो ये शिक्षक और छात्र सरोजनी नगर संजय पाकज़् की तरफ रवाना हो गये। इनमें डूटा के अध्यक्ष राजीव रे, जेएनयू की प्रों जयती घोष, सेवानिवृत शिक्षक कमल नयन काबरा तथा सामाजिक कार्यकर्ता मलयश्री हाशमी शामिल थे। 

जेएनयू शिक्षक संघ के बैनर तले ये शिक्षक उच्च शिक्षा में पीछे के दरवाज़े से निजीकरण का विरोध कर रहे हैं। उनका कहना है कि सरकार के इस फैसले से उच्च शिक्षा मांगी हो जायेगे और गरीब तथा सामान्य वगज़् के बच्चों के लिए दाखिला मुश्किल हो जायेगा। शिक्षक संघ के उपाध्यक्ष डॉ देवेन्द्र चौबे और सचिव सुधीर कुमार ने यूनीवार्ता को बताया कि पुलिस ने जब उन्हें रोक दिया तो छात्रों ने वही धरना देना शुरू कर दिया लेकिन शिक्षक एवं पदाधिकारी संसद मागज़् पहुँच गए जहाँ पुलिस ने उन्हें फिर रोक लिया। 

उन्होंने बताया कि मोदी सरकार शिक्षा का बज़ट को बढ़ा नहीं रही लेकिन स्वायतत्ता की आड़ में जेएनयू, बीएचयू , हैदराबाद विश्विद्यालय तथा अलीगढ मुस्लिम विश्विद्यालयओं को निजीकरण के लिए खोल रही है जो बहुत ही घातक कदम है। इसलिए हम सड़क पर उतरने को मजबूर हैं।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


एडिलेड टेस्ट : एडिलेड में 15 साल बाद जीत के करीब पहुंचा भारत

एडिलेड (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय गेंदबाजों रविचंद्रन अश्वि...

'गोपी बहू' गिरफ्तार, हीरा व्यापारी की हत्या में शामिल होने का आरोप 

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : एक हीरा व्यापारी की हत्‍या के सि...

top