Saturday, December 15,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

भारत बंद : पीएम मोदी को हराने के लिए इन 3 महिलाओं ने रचा चक्रव्यूह, ऐसे चलेंगी चाल 

Publish Date: April 02 2018 03:39:55pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): लोकसभा चुनाव 2019 में जीत हासिल करने के लिए कांग्रेस ने हर उस दल से हाथ मिलाना शुरू कर दिया है जोकि मोदी विरोधी है। आज के दलित आंदोलन ने मोदी सरकार के खिलाफ उठ रही चिंगारी को भीषण आग बना दिया है। सपा, बसपा के गठबंधन की आस के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी आस लगाए बैठे हैं। उधर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी ने मिशन थर्ड फ्रंट शुरू किया हुआ है। सियासी विश्लेषकों की मानें तो मोदी को हराने के लिए सोनिया गांधी, ममता बैनर्जी और मायावती अपने अपने वोट बैंक को मजबूत करते हुए चक्रव्यूह रच रही हैं और इसी चक्रव्यूह में मोदी को फंसाने के लिए चाल चली जाएगी। आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी कहा कि भाजपा सरकार दलित विरोधी है।

पहला नाम : सोनिया गांधी
सोनिया गांधी ने लोकसभा चुनाव की तैयारी के तहत बड़ा बदलाव करते हुए कांग्रेस की कमान राहुल गांधी के हाथों सौंप दी। राहुल को कमान सौंपने का फायदा गुजरात चुनाव में नजर भी आया। इसी बीच जिस यूथ को मोदी अपना मजबूत वोटबैंक मान रहे हैं उसी वोटबैंक में सेंध लगाने के लिए सोनिया ने राहुल गांधी को पार्टी की बागडोर सौंपी। राहुल युवा हैं और कांग्रेस युवाओं में ये संदेश देना चाहती है कि अगर पार्टी किसी यूथ को अपना राष्ट्रीय प्रधान बना सकती है तो सरकार बनने पर युवाओं के हित में कई बड़े फैसले ले सकती है।

दूसरा नाम : मायावती  
बसपा प्रमुख मायावती का वोटबैंक दलित वोटबैंक है। ये परंपरागत वोटबैंक है और मायावती ने इसके साथ-साथ मुस्लिम वोटरों में भी मान सम्मान बनाया हुआ है। हाल ही के यूपी उपचुनाव में सपा से गठबंधन करके मायावती भाजपा को धूल चटाई। मायावती का वोटबैंक इतना मजबूत है कि लोकसभा चुनाव की नई रणनीति के लिए पूर्व सीएम अखिलेश यादव खुद उनके घर गए। मायावती लोकसभा चुनाव में मोदी को हराने के लिए सपा से गठबंधन के फैसले के अलावा कई और बड़े फैसले लेकर मोदी को झटका दे सकती हैं। 

तीसरा नाम : ममता बैनर्जी
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बैनर्जी आजकल काफी सक्रिय हैं। वह मिशन थर्ड फ्रंट पर हैं। इस फ्रंट के दौरान वह भाजपा के उन बागी सुर वाले नेताओं से भी मिल चुकी हैं जो मोदी सरकार में खुद को उपेक्षा का शिकार मान रहे हैं। ऐसे नेताओं में शत्रुघ्न सिन्हा व यशवंत सिन्हा भी शामिल हैं। ममता ने सोनिया गांधी से भी मुलाकात की। अगर थर्ड फ्रंट बनाने में वह सफल होती हैं और इस फ्रंट का प्रदर्शन लोकसभा चुनाव में भी सही रहता है तो ये बड़ा पद पा सकती हैं।   

bharat bandh के लिए इमेज परिणाम

tension modi के लिए इमेज परिणाम
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


AUS vs IND: पहली पारी समाप्त, 326 पर ऑलआउट हुई ऑस्ट्रेलिया 

पर्थ (उत्तम हिन्दू न्यूज): आस्ट्रेलिया ने यहां पर्थ स्टेडियम में भारत के खिलाफ खेले जा रहे...

'नारकोस : मेक्सिको' के सीजन-2 में भी दिखेंगे डिएगो लूना, स्कॉट मैकनेरी

लॉस एंजेलिस (उत्तम हिन्दू न्यूज): अभिनेता डिएगो लूना और स्कूट मैकनेरी 'नारकोस : मेक्सि...

top