Tuesday, December 11,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

रक्षा मंत्रालय का बड़ा फैसला, 9 साल से लापता बेटे की पेंशन पाने के लिए भटक रही मां को दिया इंसाफ

Publish Date: April 09 2018 07:14:36pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज):  रक्षा मंत्रालय ने 9 साल पहले अरूणाचल प्रदेश में चीन से लगती वास्तविक नियंत्रण रेखा पर गश्त लगाने के दौरान उफनती नदी में गिरे सेना के राइफलमैन रिंकू राम की मां को नवम्बर 2009 से पारिवारिक पेंशन देने का निर्णय लिया है। राइफलमैन रिंकू राम का शव नहीं मिल पाने के कारण सेना की ओर से उनके परिवार को पारिवारिक पेंशन का लाभ नहीं दिया जा रहा था। मृतक की मां ने इसके लिए सशस्त्र सेना न्यायाधीकरण का दरवाजा खटखटाया था। 

मंत्रालय की आज यहां जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि मीडिया में इस आशय की रिपोर्ट आने के बाद रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने इसकी जांच करायी जिसमें पता चला कि उनके परिवार को पारिवारिक पेंशन इसलिए नहीं दी जा रही थी क्योंकि परिवार की आय निर्धारित सीमा से अधिक थी। हालांकि भारतीय साक्ष्य अधिनियम के प्रावधानों के अनुरूप यदि कोई व्यक्ति 7 वर्ष से अधिक समय तक लापता रहता है तो उसे मृत मान लिया जाता है। इसे ध्यान में रखते हुए अरूणाचल प्रदेश सरकार ने गत 4 अप्रैल को राइफलमैन रिंकू राम के नाम से मृत्यु प्रमाण पत्र जारी किया। यह प्रमाण पत्र मिलने के बाद रक्षा मंत्रालय के पेंशन विभाग ने मृत सैनिक की मां के नाम 19 नवम्बर 2009 से पेंशन जारी करने का निर्णय लिया है। इसके अलावा उन्हें ग्रेच्युटी और 10 लाख रूपये की अनुग्रह राशि भी जारी की जाएगी। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


ऋषभ पंत ने रचा इतिहास, ये कारनामा करने वाले पहले विदेशी विकेटकीपर बने 

एडिलेड (उत्तम हिन्दू न्यूज): एडिलेड ओवल मैदान पर जहां एक ओर भ...

'मर्दानी 2' में नजर आएंगी रानी मुखर्जी

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): अभिनेत्री रानी मुखर्जी फिल्म '...

top