Monday, December 10,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

भारत बंद : देश के कई जिलों में इंटरनेट सेवा बाधित, ग्वालियर में कफ्यू 

Publish Date: April 09 2018 08:11:20pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : दलितों के भारत बंद के बाद मंगलवार यानी 10 अप्रैल को सवर्णों ने भारत बंद का आह्वान किया है। इस मामले को लेकर गृह मंत्रालय ने पहले से तैयारी प्रारंभ कर दी है। लिहाजा कानून व्‍यवस्‍था को बनाए रखने के लिए गृह मंत्रालय ने एडवाइजरी जारी की है। गृह मंत्रालय की ओर से सभी राज्‍यों को जारी एडवाइजरी में निर्देश दिया गया है कि कानून व्‍यवस्‍था को बनाए रखें। इसके साथ ही कहा गया है कि अगर जरूरत पड़े तो धारा 144 लागू करें। 

इधर राज्य सरकारों ने भी अपनी तैयारी मुकम्मल कर लेने की बात कही है। उत्तर प्रदेश के सहारनपुर से आ रही खबर में बताया गया है कि 10 अप्रैल के भारत बंद को देखते हुए पूरे जिले में सोमवार की रात 12 बजे से इंटरनेट सेवा बंद कर दी गयी है। इस बंद को देखते हुए प्रशासन ने जहां एक ओर उत्तर प्रदेश के कुछ जिलों में इंटरनेट सेवा बंद करने की बात कही है वहीं मध्य प्रदेश के ग्वालियर में मंगलवार को पूरे दिन का कफ्यू लगाने की घोषणा की गयी है। 

बता दें कि दो अप्रैल को जो भारत बंद कराया गया था उसके विरोध में सर्व समाज और अन्‍य संस्‍थाओं (आरक्षण की विरोधी संस्‍थाओं) की ओर से 10 अप्रैल को भारत बंद बुलाया गया है। यह बंद आरक्षण के खिलाफ है। इस बंद मद्देनजर केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने कहा कि अपने इलाके में होने वाली किसी भी हिंसा के लिये जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि मंत्रालय ने सभी राज्यों को एक परामर्श जारी किया है कि कुछ समूहों द्वारा सोशल मीडिया पर 10 अप्रैल को बुलाए गए भारत बंद के मद्देनजर आवश्यक एहतियाती कदम उठाए जाएं। गृह मंत्रालय के द्वारा जारी एडवाइजरी में कहा गया है कि अप्रिय घटना को रोकने के लिए राज्य सरकार अपने ढ़ंग से कार्रवाई करें। 

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में पुलिस और प्रशासन ने अलर्ट जारी कर धारा 144 लागू कर दी है। वहीं मध्यप्रदेश में भी स्कूल कॉलेज की छुट्टी कर दी गई है जबकि कई शहरों में इंटरनेट की सुविधा भी मंगलवार रात तक के लिए बंद कर दी गई है। वहीं भोपाल के कमिश्नर अजातशत्रु श्रीवास्तव ने कहा है कि 10 अप्रैल को सुबह से ही भोपाल में धारा 144 लागू की जाएगी लेकिन स्कूल खुले रहेंगे। किसी भी हिंसा से निपटने के लिए 6000 पुलिस फोर्स लगाई गई है। उन्होंने बताया कि इंटरनेट पर फिलहाल रोक नहीं लगाई गयी है लेकिन सोशल मीडिया पर करी नजर रखी जा रही है। 

प्रशासन ने ग्वालियर, भिंड और मुरैना में प्रशासन ने स्कूल कॉलेजों को 10 अप्रैल को बंद करने का एलान किया है। यही नहीं भिंड में सोमवार रात से पूरे दिन कफ्र्यू लगाने का फैसला लिया है। जबकि एमपी प्रशासन ने ग्वालियर में इंटरनेट सेवाएं रविवार रात 11 बजे से ही बंद कर दिया गया जो मंगलवार रात 10 बजे तक बंद रहेगा। इन जिलों में भारत बंद का एलान को देखते हुए लाइसेंसी हथियार जमा करा लिए गए हैं। वहीं यूपी में पुलिस और प्रशासन ने किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं। प्रदेश भर में वाहनों की चेकिंग की जा रही है। सभी जगह भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है ताकि इस बार किसी भी प्रकार की हिंसा न हो। 

पुलिस अधिकारियों के अनुसार उत्तर प्रदेश में 10 अप्रैल को भारत बंद करने और भड़काऊ पोस्ट डालने वालों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। इस काम की पुलिस की साइबर सेल मदद कर रही है। साथ ही किसी भी विवादित पोस्ट को करने वाले के साथ उसे शेयर, लाइक या कमेंट करने वाले पर भी कार्रवाई होगी।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


ऋषभ पंत ने रचा इतिहास, ये कारनामा करने वाले पहले विदेशी विकेटकीपर बने 

एडिलेड (उत्तम हिन्दू न्यूज): एडिलेड ओवल मैदान पर जहां एक ओर भ...

'मर्दानी 2' में नजर आएंगी रानी मुखर्जी

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): अभिनेत्री रानी मुखर्जी फिल्म '...

top