Monday, December 10,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

देशभर में भारत बंद का मिला-जुला असर, बिहार में हिंसा तो पंजाब में लोगों ने खुद नहीं खोली दुकानें  

Publish Date: April 10 2018 02:21:20pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग को लेकर मंगलवार को सोशल मीडिया द्वारा बुलाए गए एकदिवसीय भारत बंद का बिहार, पंजाब, उत्तर प्रदेश, राजस्थन, मध्य प्रदेश एवं हरियाणा में व्यापक असर दिखा। जहां एक ओर बिहार में कई स्थानों पर बंद हिंसक रूप ले लिया वहीं पंजाब में बंद के समर्थन में स्त: दुकाने एवं प्रतिष्ठाने बंद दिखी। कुछ क्षेत्रों में बंद समर्थकों द्वारा सड़क मार्ग अवरुद्घ कर देने से आवागमन पर प्रतिकूल असर दिख रहा है। इस बंद को देखते हुए राज्य में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। एससी-एसटी आरक्षण के विरोध में तथा आर्थिक आधार पर आरक्षण देने की मांग को लेकर भारत बंद का असर बिहार के विभिन्न हिस्सों में देखने को मिल रहा है। सोशल मीडिया द्वारा बुलाए गए इस भारत बंद का बिहार में कोई एक संगठन या नेता अगुवाई नहीं कर रहा है। 

पंजाब से मिल रही खबर में बताया गया है कि फिरोजपुर में कई स्थानों पर हिंसक झड़प हुई है। पंजाब के फिरोजपुर में भारत बंद के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प हो गई। दुकान बंद करवाने के दौरान लोगों ने मोटरसाइकिल पर पथराव किया। इस दौरान लोगों ने तलवारों से हमला किया, जिसमें दो घायल हुए हैं। मौके पर पहुंचे डीएसपी,एसपी आदि ने स्थिति को काबू किया। जालंधर में लांबड़ा में कुछ दुकानें बंद करवाई गई लेकिन सख्त पुलिस प्रबंधों के चलते किसी प्रकार का कोई तनाव पैदा नहीं हुआ। जिला में सभी सरकारी और निजी कार्यालय यथावत खुले रहे। पंजाब में सुरक्षा की दृष्टि से निजी शिक्षण संस्थान बंद रहे जबकि सरकारी स्कूल खुले थे। कई बाजारों में सवेरे से ही पुलिस के जवानों को गश्त करते देखा गया और कहीं भी बंद समर्थक बाजारों अथवा सड़कों पर नजर नहीं आये। पटियाला, पठानकोट, लुधियाना में बंद के समर्थन में खुद दुकानदारों और प्रतिष्ठान मालिकों ने ने अपनी-अपनी दुकाने एवं प्रतिष्ठाने नहीं खोली। 

बिहार में कई क्षेत्रों में बंद समर्थक सुबह से ही सड़क पर उतर गए। आरा में बंद समर्थकों ने सड़क और रेल मार्ग जाम कर प्रदर्शन किया। इस दौरान दो गुटों में झड़प होने की भी सूचना है। इसके अलावा दरभंगा, जहानाबाद, बेगूसराय में भी बंद समर्थक सड़कों पर उतरे और टायर जलाकर मार्ग को अवरुद्घ किया। सीतामढ़ी जिले के रुन्नी सैदपुर टोल प्लाजा के पास भी बंद समर्थक सड़क पर उतरे और सड़क जाम किया। पटना के भी कई क्षेत्रों में मार्ग जाम किया गया। बंद समर्थकों का कहना है कि सभी जातीय समूहों में निधज़्न लोग शामिल हैं। ऐसे में आरक्षण आर्थिक आधार पर लागू किया जाना चाहिए। इस बीच बंद को देखते हुए राजधानी पटना के अधिकांश निजी स्कूलों को बंद रखा गया है। इधर, बंद को लेकर राज्य के सभी क्षेत्रों में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। कई स्थानों पर पुलिकर्मियों की प्रतिनियुक्ति की गई है।

बंद की खबर और कई राज्यों से आ रही है। मध्य प्रदेश के ग्वालियर में मंगलवार को दिन भर का कफ्यू लगाया गया। राजस्थान में धारा 144 लागू करते हुए कई हिस्सों में अर्धसैनिक बलों की तैनाती की गई है। पंजाब में कई गैर सरकारी स्कलों को बंद कर दिया है। इसके अलावा पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले में अफवाहों को रोकने के लिए इंटरनेट सेवाओं को प्रतिबंधित किया गया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों से सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने को कहा है। गृह मंत्रालय ने राज्यों को भारत बंद के संबंध में परामर्श जारी करते हुए कहा है कि अगर किसी इलाके में हिंसा हुई, तो इसके लिए वहां के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


ऋषभ पंत ने रचा इतिहास, ये कारनामा करने वाले पहले विदेशी विकेटकीपर बने 

एडिलेड (उत्तम हिन्दू न्यूज): एडिलेड ओवल मैदान पर जहां एक ओर भ...

'मर्दानी 2' में नजर आएंगी रानी मुखर्जी

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): अभिनेत्री रानी मुखर्जी फिल्म '...

top