Monday, December 17,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

VHP के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव 14 अप्रैल को, तोगड़िया की छुट्टी तय

Publish Date: April 11 2018 04:50:23pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) विचार परिवार की सबसे प्रभावशाली संगठन विश्व हिन्दू परिषद् (पीएचपी) का गुरुग्रमा में 52 साल में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष पद का चुनाव होने जा रहा है। इस चुनाव के लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। हालांकि इसी महीने के 14 तारीख को होने वाले चुनाव का परिणाम क्या होगा यह तो भविष्य के गर्भ में है लेकिन इतना तय है कि चुनाव कई प्रकार के विवादों को जन्म देगा। यह चुनाव इस लिए भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है कि अभी हाल ही में तोगडिय़ा ने केन्द्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं।  

यह चुनाव इसलिए हो रहा है कि वीएचपी के सदस्य इस पद के लिए प्रस्तावित दो नामों में से किसी एक नाम पर आम सहमति नहीं बना पाए हैं। अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए चुनाव 14 अप्रैल को हरियाणा के गुरुग्राम में होगा। बता दें कि मौजूदा कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगडिय़ा की कुर्सी पर खतरा मंडरा रहा है। सूत्रों की मानें तो वीएचपी के अध्यक्ष पद से राघव रेड्डी भी हटाए जा सकते हैं। गौरतलब है कि पिछले दिनों प्रवीण तोगडिय़ा ने पीएम नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर कहा था कि सत्ता की ताकत में नहीं बहना चाहिए और अपने द्वारा किए गए वादों को पूरा करने के लिए काम करना चाहिए। 

तोगडिय़ा और राघव रेड्डी का कार्यकाल पिछले साल दिसम्बर में ही ख़त्म हो गया था। वीएचपी के नए अध्यक्ष के चुनाव के लिए बीते 29 दिसंबर को भुवनेश्वर संगठन के कार्यकारी बोर्ड की बैठक हुई थी। आरएसएस, राघव रेड्डी की जगह वी. कोकजे को अध्यक्ष बनाना चाहता था, लेकिन तोगडिय़ा और उनके समर्थकों ने हंगामा करके चुनाव को नहीं होने दिया। इसी के चलते नए अध्यक्ष का चुनाव नहीं हो सका।

14 अप्रैल को होने वाले इस चुनाव में वीएचपी के अंदर संगठात्मक स्तर पर कई फेरबदल हो सकते हैं। मीडिया रिपोट्र्स की मानें तो प्रवीण तोगडिय़ा और राघव रेड्डी की छुट्टी के साथ ही नई टीम बनाई जा सकती है। प्रवीण तोगडिय़ा ने पिछले दिनों अपने एनकाउंटर का आरोप इशारों-इशारों में पीएम मोदी और उनकी सरकार पर लगाया था। इस मामले को लेकर भी आरएसएस का वर्तमान नेतृत्व तोगडिय़ा के प्रति बढिय़ा भाव नहीं रख रहा है। 

बता दें कि अध्यक्ष पद के सबसे मजबूत दावेदार विष्णु सदाशिव कोकजे हिमाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल रह चुके हैं। उससे पहले वह मध्य प्रदेश हाई कोर्ट में जज की जिम्मेदारी भी निभा चुके हैं। वीएचपी में अध्यक्ष को परिषद् के सदस्य मतदान की प्रक्रिया से चुनते हैं, वहीं अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष का चयन निर्वाचित अध्यक्ष करता है। पिछले दो बार से अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष पद पर चुने जा रहे राघव रेड्डी अंतर्राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष पद की कुर्सी पर प्रवीण तोगडय़िा को बिठाते आ रहे हैं। इस बार अगर विष्णु सदाशिव कोकजे जीतते हैं तो प्रवीण तोगडिय़ा से यह पद छिनना तय माना जा रहा है। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पर्थ टेस्ट: ऑस्ट्रेलिया ने भारत को दिया 287 रनों का लक्ष्य, शमी ने झटके 6 विकेट

पर्थ (उत्तम हिन्दू न्यूज): आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने यहां वाका मैदान पर खेले जा रहे दूसरे...

साउथ की ये मशहूर एक्ट्रेस ड्रग्स के साथ हुई गिरफ्तार, पुलिस ने शुरू की जांच

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): अश्वथी बाबू मलयालम टीवी और फिल्मों का जाना-माना नाम है। अश...

top