Wednesday, December 19,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

चार्जशीट रिपोर्ट में खुलासा, कठुआ नाबालिग बच्ची बलात्कार कांड सोची-समझी रणनीति का हिस्सा 

Publish Date: April 12 2018 01:53:39pm

जम्मू (उत्तम हिन्दू न्यूज) : जम्मू-कश्मीर पुलिस ने कठुआ में नाबालिग के साथ हुए गैंगरेप और हत्या मामले की जैसे ही चार्जशीट दाखिल की मामला हिन्दू बनाम मुसलमान में बदल गया। चार्जशीट में आरोप लगाया गया है कि कांड का मास्टरमाइंड, बकरवाल समुदाय के लोगों को अपने इलाके से बाहर भगाने के लिए इस प्रकार की घिनौने हड़कत की और अपराध के लिए अपने भतीजे तथा अन्य 6 को उकसाया। 

बता दें कि जम्मू-कश्मीर में बकरवाल समुदाय मुख्य रूप से चरवाहे हैं। सोमवार (9 अप्रैल, 2018) को कठुआ के चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट को सौंपी गई इस चार्जशीट में यह भी कहा गया है कि गैंगरेप का मास्टरमाइंड सांजी राम मामले में निपटारे के खिलाफ था। कठुआ गैंगरेप और हत्या के मास्टरमाइंड सांजी ने जानवरों को चराने के लिए जमीन नहीं देने के लिए हिंदुओं को बकरवाल समुदाय के खिलाफ उकसाया था।

चार्जशीट में आगे कहा गया है कि तहसील में हिंदू समुदाय के बीच आम धारणा थी कि बकरवाल गाय की हत्या और नशीले पदार्थों की तस्करी करने में लगे हैं। इससे उनके समुदाय के लोग नशे के शिकार हो रहे हैं। आरोप पत्र में यह भी कहा गया है कि इसके चलते हिंदू, बकरवाल समुदाय के लोगों को धमकाते थे। सांजी राम दोनों समुदायों के बीच समझौते के खिलाफ था। वह हिंदुओं से कहता था कि बकरवाल समुदाय को भगाने के लिए एक रणनीति तैयार करें। इलाके में दोनों समुदायों के बीच तनाव की वजह से एफआईआर दर्ज कराने के मामले तेजी से बढ़े हैं।

क्राइम ब्रांच की शुरुआती जांच के मुताबिक नाबालिग बच्ची को एक मंदिर में रखा गया। उसे नशीला पदार्थ दिया गया। उसकी हत्या से पहले एक सप्ताह में कई बार गैंगरेप किया गया। रिपोर्ट के अनुसार, मंदिर में बंधक बना कर रखी गई आठ वर्षीय बच्ची का बलात्कार करने के लिए एक आरोपी मेरठ से आया था। उससे कहा गया था कि अगर वह अपनी हवस मिटाना चाहता है तो आ जाए। 

इस दौरान एक अन्य आरोपी पुलिसकर्मी ने नाबालिग की हत्या से पहले कहा कि वह एक बार और उसका रेप करना चाहता है। बाद में अन्य लोगों ने फिर बच्ची का गैंगरेप किया। फिर उसकी हत्या कर दी गई। बच्ची का सिर पर कई बार पत्थर से मारा गया। जांच करी रही टीम का यह भी अरोप है कि रेप के आरोपी राम को बचाने के लिए पुलिस को 1.5 लाख रुपए दिए गए थे।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


बेस प्राइज एक करोड़ में ही बिके युवराज सिंह, पहली बार मुंबई के लिए खेलेंगे 

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : एक समय में अपनी शानदार बल्ले...

दिलीप कुमार को धमकाने वाला बिल्डर जेल से छूटा, सायरा बानो ने पीएम मोदी से फिर मांगी मदद

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : अपने जमाने के मशहूर एक्टर दिलीप ...

top