Monday, December 17,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

बंगाल ने वन्यजीवों के अवैध शिकार की छूट दे रखी है : मेनका

Publish Date: April 18 2018 07:25:35pm

कोलकाता (उत्तम हिन्दू न्यूज): केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने बुधवार को कहा कि देश में पश्चिम बंगाल सिर्फ ऐसी जगह है, जहां वन्यजीवों के अवैध शिकार की छूट है और उसे प्रोत्साहित किया जाता है। उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि अपने वोट बैंक को बचाने के लिए वह दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही हैं। बुद्ध पूर्णिमा के दौरान पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले के अजोध्या पहाड़ी क्षेत्र में 'शिकार उत्सव' नामक त्योहार का जिक्र करते हुए मेनका गांधी ने कहा कि हर साल हजारों जानवर मारे जाते हैं और उन्होंने कहा कि त्योहार तत्काल प्रतिबंधित किया जाना चाहिए।

मेनका ने कहा, "तथाकथित हजारों जनजातियां लालगढ़ के चारों ओर जंगलों में आती हैं और हर साल हजारों जानवर मारे जाते हैं। यह साल भी अपवाद नहीं रहा। वे खुद के लिए जानवरों को नहीं मारते हैं। वे तस्करों व शिकारियों द्वारा इस्तेमाल हो रहे हैं और राज्य वन विभाग ने इस बारे में कुछ नहीं किया है।" उन्होंने कहा, "भारत में पश्चिम बंगाल एकमात्र जगह है, जहां इस तरह की अवैध अनुमति है और इसे प्रोत्साहित किया जाता है। इस शिकार उत्सव को बंद करना बेहद महत्वूर्ण है।" मंत्री ने कहा, "मुद्दा यह कि यदि मुख्यमंत्री रुचि लेती हैं तो वह इसे दो मिनट में रोक सकती हैं। लेकिन यह वोट बैंक से जुड़ा है। यदि वोट बैंक की सुरक्षा के लिए 10,000-15,000 जानवर मरते हैं तो आप क्या कर सकते हैं।" मेनका की यह टिप्पणी रॉयल बंगाल बाघ के पश्चिम बंगाल के लालगढ़ में कथित तौर पर शिकारियों द्वारा मारे जाने के कुछ दिनों बाद आई है।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पत्नी के पैरों में नजर आए 'माही', साक्षी ने फोटो शेयर कर लिखा ये

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): दिग्गज क्रिकेटरों में अपना नाम शुमार करवा चुके पूर्व कैप्टन मह...

संगीत जगत के लिए बुरी खबर, इस मशहूर गायक का निधन 

कोलकाता (उत्तम हिन्दू न्यूज): शास्त्रीय गायक पंडित अरुण भादुड...

top