Saturday, December 15,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

भारत और ब्रिटेन मिलकर करेंगे आतंकवाद का खात्मा

Publish Date: April 18 2018 07:31:05pm

लंदन (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत और ब्रिटेन ने अपने द्विपक्षीय संबंधों को नई ऊंचाई तक पहुंचाने के उद्देश्य से प्रौद्योगिकी साझेदारी स्थापित करने की घोषणा की और जिम्मेदार वैश्विक नेतृत्व के लिए मिल कर काम करने, आतंकवाद, जलवायु परिवर्तन आदि मुद्दों पर सहयोग बढ़ाने का इरादा जताया। ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का 10 डाउनिंग स्ट्रीट स्थित अपने निवास पर स्वागत किया और दोनों नेताओं ने प्रतिनिधिमंडल स्तर की बैठक की। ब्रिटेन सरकार मोदी की लंदन यात्रा को बहुत अहमियत दे रही है।

यूरोपीय संघ से हटने के बाद ब्रिटेन भारत के साथ अपने संबंधों को और मजबूत बनाना चाहता है। बैठक के बाद अधिकारियों ने बताया कि मोदी ने सुश्री मे को आश्वासन दिया है कि ब्रेग्जिट के बाद भी भारत के लिए ब्रिटेन का महत्व उतना ही रहेगा जितना पहले था। उन्होंने कहा कि वैश्विक बाजार में भारत की पहुंच के लिए लंदन का बहुत महत्व आगे भी बना रहेगा। दोनों नेताओं ने ब्रेग्जिट के बाद भारत ब्रिटेन संबंधों में नयी ऊर्जा का संचार करने के उद्देश्य से सार्थक विचार-विमर्श किया। बाद में जारी एक संयुक्त बयान में कहा गया कि दोनों देश प्लास्टिक प्रदूषण की समस्या से निपटने के वैश्विक कार्य योजना पर काम करने, साइबर सुरक्षा के लिए राष्ट्रमंडल देशों की सहायता करने तथा विश्व व्यापार संगठन के व्यापार सुविधा करार के क्रियान्वयन में तकनीकी सहायता देने और छोटे देशों के लिए मदद बढ़ाने को लेकर कृतसंकल्प हैं।

संयुक्त वक्तव्य में दोनों देशों ने जिम्मेदार वैश्विक व्यवस्था कायम करने, रक्षा एवं साइबर सुरक्षा में सहयोग, आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष, ऊर्जा के किफायती एवं सतत उपभोग, व्यापार, निवेश एवं वित्तीय प्रबंधन, शिक्षा एवं दोनों देशों की जनता के बीच संपर्क के विस्तार को लेकर मिल करने का संकल्प व्यक्त किया। 

बयान में कहा गया कि हम अपने रिश्तों को एक रणनीतिक साझेदारी का रूप देना चाहते हैं जिसका प्रसार पूरे विश्व और पूरी सदी में हो। हम अपने व्यापारिक, सांस्कृतिक एवं बौद्धिक नेताओं को इस बात के लिए प्रोत्साहित करते हैं कि वे भारत एवं ब्रिटेन के बीच गहरे एवं व्यापक संपर्क का दोहन करें ताकि लाखों भारतीय एवं ब्रिटिश नागरिकों के बीच आदान- प्रदान, पर्यटन, कारोबार एवं अन्य गतिविधियों को अधिक विस्तार मिले। मोदी यहां राष्ट्रमंडल देशों के शासनाध्यक्षों की बैठक (चोगम) में भाग लेने कल रात यहां पहुंचे थे। उन्होंने प्रिंस ऑफ वेल्स चाल्र्स और राष्ट्रमंडल की अध्यक्ष ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ से बकिंघम पैलेस में मुलाकात की। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पर्थ टेस्ट : दूसरे दिन का खेल खत्म, भारत का स्कोर- 173/3

पर्थ (उत्तम हिन्दू न्यूज) : भारत ने यहां पर्थ स्टेडियम में आस...

Isha weds Anand: मेहमानों की खातिरदारी करते दिखे अमिताभ, आमिर और शाहरूख, देखें तस्वीरें

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): देश के मशहूर बिजनेसमैन मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी ने हाल ...

top