Saturday, December 15,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग पर बटी कांग्रेस, इस नेता ने किया प्रस्ताव का विरोध 

Publish Date: April 20 2018 02:51:48pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यृज) : चीफ जस्टिस के खिलाफ  महाभियोग प्रस्ताव पर कांग्रेस पार्टी के अंदर से ही विरोध के स्वर उठने लगे हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता और सुप्रीम कोर्ट के वकील सलमान खुर्शीद ने शुक्रवार को साफ-साफ कह दिया कि वे इस महाभियोग प्रस्ताव का समर्थन नहीं कर सकते हैं। उन्होंने अपनी ही पार्टी के फैसले का विरोध किया है। उन्होंने शुक्रवार को कहा, महाभियोग एक गंभीर मामला है। मैं चीफ जस्टिस के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पर कांग्रेस पार्टी की चर्चा में शामिल नहीं हूं। सूत्रों की मानें तो कांग्रेस के कई नेता इस प्रस्ताव के समर्थन में नहीं हैं।

विगत दिनों कुछ मीडिया रिपोर्ट में बताया गया था कि इस प्रस्ताव के विरोध में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह भी हैं। चर्चा यह भी है कि जब पार्टी के अंदर इस बात को लेकर गंभर मंथन चला तो डॉ. मनमोहन सिंह ने प्रस्ताव का विरोध किया। उन्होंने यह भी कहा कि यह कांग्रेस की संस्कृति नहीं है। इसके बाद प्रथम चरण में कांग्रेस आलाकमान इस प्रस्ताव को लेकर पीछे हट गए थे लेकिन जस्टिस लोया मामले के बाद एक बार फिर से इस प्रस्ताव पर कांग्रेस पार्टी गंभीर दिख रही है। हालांकि कांग्रेस के नेता अच्छी तरह समझते हैं कि वर्तमान राजनीतिक स्थिति में इस प्रस्ताव का परवान चढऩा बेहद कठिन है लेकिन कांग्रेस और विपक्षी नेता इस प्रस्ताव का डर दिखाकर देश की संवैधानिक संस्था को बताना चाहते हैं कि देश में केवल सत्ता पक्ष ही नहीं प्रतिपक्ष की भी भूमिका अहम है। 

इधर आज खुर्शीद ने कहा कि न्यायपालिका से हर कोई सहमत नहीं हो सकता है, यहां तक कि खुद न्यायपालिका के जज आपस में सहमत नहीं होते हैं। कोर्ट के फैसले भी पलट दिए जाते हैं। कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी चीफ जस्टिस के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पर हस्ताक्षर नहीं किया है। हालांकि कांग्रेस के नेता कपिल सिब्बल ने इससे साफ  इनकार किय है।  सिब्बल ने कहा, यह बिल्कुल झूठ बात है कि मनमोहन सिंह ने महाभियोग प्रस्ताव पर हस्ताक्षर नहीं किया। गौरतलब है कि इससे ठीक पहले कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी थी कि राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद के नेतृत्व में विपक्षी नेताओं ने महाभियोग प्रस्ताव का नोटिस उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू को सौंपा है। 

आजाद ने कहा कि हमने मीटिंग के दौरान 5 आधार देते हुए महाभियोग के प्रस्ताव की मंजूरी मांगी है। कांग्रेस के नेतृत्व में 7 विपक्षी दलों ने शुक्रवार को राज्यसभा सभापति वेंकैया नायडू से मुलाकात की और चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा को पद से हटाने के लिए महाभियोग प्रस्ताव का नोटिस सौंप दिया।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


वर्ल्ड टूर फाइनल्स: पीवी सिंधू की इंतानोन पर रोमांचक जीत, फाइनल में बनाई जगह

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधू ने अपनी शानदार फार्म जारी...

हिना खान ने शेयर किया पहली एडल्ट फिल्म का एक्सीरियेंस

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): मशहूर टीवी स्टार हिना खान ग्लैमरेस लुक को लेकर अकसर चर्चा में ...

top