Tuesday, December 18,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

एक और बाबा के कारण मोदी सरकार की सांसें फूलीं, शहरों को किया जा रहा सील (देखें तस्वीरें) 

Publish Date: April 21 2018 05:41:58pm

जोधपुर (उत्तम हिन्दू न्यूज): राम रहीम को सजा होने के बाद हुई हिंसा से जहां हरियाणा की भाजपा सरकार पर अंगुली उठ गई वहीं कठुआ व उन्नाव प्रकरण ने मोदी सरकार को जनता के कटघरे में खड़ा कर दिया। इसी दौरान दलित आंदोलन ने भी सरकार को परेशान किया। अब फिर से सरकार की सांसें फूलने लगी हैं। इस बार सांसें फूलने का कारण है कथावाचक आसाराम बापू पर यौन शोषण के मामले में 25 अप्रैल को आने वाला न्यायालय का फैसला। इस फैसले को लेकर जोधपुर शहर की सीमा को सील करने के साथ 29 अप्रैल तक निषेधाज्ञा लगाई गई है। राम रहीम के खिलाफ फैसले के विरोध में पंचकुला में हुई हिंसा से सबक लेकर यहां के प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था के कई उपाय किये है।

देश भर के पुलिस नियंत्रण कक्षों को भी सूचित किया गया है कि आसाराम से मिलने आने वालों के बारे में जोधपुर पुलिस को सूचित किया जाये। न्यायालय के फैसले के दिन बाहर से आसाराम के ज्यादा अनुयायी नहीं आये इसके भी प्रयास किये जा रहे है। आसाराम के खिलाफ यौन शोषण के मामले में अनुसूचित जाति जनजाति न्यायालय में आरोपों पर सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रख लिया था जो अब 25 अप्रैल को केन्द्रीय जेल में सुनाया जायेगा। इस दिन धरना प्रदर्शन और रैली निकालने पर रोक रहेंगी ताकि पंचकुला जैसे हालात नहीं हो। उल्लेखनीय है कि दिल्ली के कमला नगर पुलिस थाने में आराराम के खिलाफ उसी के गुरूकुल में पढऩे वाली नाबालिग छात्रा ने 20 अगस्त 2013 को यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाया था।

नाबालिग ने कहा था कि जोधपुर के निकट  मणाई आश्रम में आसाराम ने 15 अगस्त 2013 को बुलाकर उसका शोषण किया।थाने ने जीरो एफआईआर दर्ज कर मामला जोधपुर में संबंधित थाने को भिजवाई। जोधपुर पुलिस ने आसाराम के  खिलाफ नाबालिग का यौन उत्पीडऩ करने का मामला दर्ज किया। आसाराम को बड़ी मशक्कत के बाद 31 अगस्त 2015 को इंदौर स्थित आश्रम से रात को गिरफ्तार किया और जोधपुर लाया गया। तब से ही आसाराम जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद है। आसाराम की जमानत का प्रयास राम जेठमलानी, सुब्रमण्यम स्वामी, सलमान खुर्शीद सहित देश के कई जाने माने वकीलों ने किया, लेकिन जमानत नहीं हुई। आसाराम ने निचली अदालतों, उच्च न्यायालय से लेकर उच्चतम न्यायालय तक 11 बार जमानत लेने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली।

Image result for jodhpur jail

Image result for jodhpur jail

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


बेस प्राइज एक करोड़ में ही बिके युवराज सिंह, पहली बार मुंबई के लिए खेलेंगे 

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : एक समय में अपनी शानदार बल्ले...

दिलीप कुमार को धमकाने वाला बिल्डर जेल से छूटा, सायरा बानो ने पीएम मोदी से फिर मांगी मदद

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : अपने जमाने के मशहूर एक्टर दिलीप ...

top