Tuesday, December 11,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

अपहरण के आरोप में SP गिरफ्तार, बिटकॉइन में लिया था फिरौती की रकम 

Publish Date: April 23 2018 03:28:31pm

अहमदाबाद (उत्तम हिन्दू न्यूज) : गुजरात के अमरेली में पुलिस अधीक्षक ने ही एक व्यापारी को अगवा कर लिया। इसके बाद आरोपी पुलिस अधीक्षक ने व्यापारी के परिजन से 12 करोड़ रुपये के 200 बिटकॉइन बतौर फिरौती के रूप में लिए। इस मामले में उक्त पुलिस अधीक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है। गुजरात के अमरेली पुलिस अधीक्षक (एसपी) जगदीश पटेल को हिरासत लिया जा चुका है। इससे पहले सीआईडी ने उनके आवास पर रात में छापा भी मारा था। 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने सूरत के रियल एस्‍टेट कारोबारी शैलेष भट्ट को अगवा कर लिया था। फिरौती के तौर पर 12 करोड़ रुपये मूल्‍य के 200 बिटकॉइन (डिजिटल करेंसी) और पांच करोड़ नकद लिए गए थे। इस मामले में राज्‍य के 10 पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। अमरेली के वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक जगदीश पटेल के खिलाफ भी जांच चल रही थी, जिन्‍हें सीआईडी (क्राइम) ने पूछताछ के बाद हिरासत में ले लिया। आरोप है कि पटेल ने बिल्‍डर शैलेष भट्ट से करोड़ों रुपये के बिटकॉइन वसूलने में शामिल थे। अपराध शाखा में पुलिस इंस्‍पेक्‍टर अनंत पटेल को भी इसमें संलिप्‍त बताया जा रहा है। वह फिलहाल फरार हैं। डीजीपी (सीआईडी क्राइम) आशीष भाटिया ने बताया कि इस मामले में तीन अन्‍य आरोपी पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

इस हाईप्रोफाइल अपहरण कांड में गुजरात में तैनात सीबीआई के अधिकारी सुनील नायर को भी शामिल बताया गया है। शैलेष भट्ट द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत में एसपी जगदीश पटेल, इंस्‍पेक्‍टर अनंत पटेल, बिटकॉइन की जानकारी रखने वाले किरीट पलाडिया और पूर्व विधायक नलिन कोटडिया को मुख्‍य अरोपी बनाया गया है। शैलेष की शिकायत के अनुसार, अमरेली पुलिस और स्टेट सीबीआई अधिकारी ने उन्‍हें एनकाउंटर करने की धमकी देकर 17 करोड़ रुपये वसूल लिए। 

उनका आरोप है कि इनमें से 5 करोड़ सीबीआई अधिकारी सुनील नायर ने लिए हैं। वहीं, बारह करोड़ रुपये मूल्‍य के 200 बिटकॉइन इंस्पेक्टर अनंत पटेल और एसपी जगदीश पटेल ने लिए थे। शैलेष भट्ट का आरोप है कि इस मामले में उनका पूर्व पार्टनर किरीट पालडिया भी पुलिस के साथ मिले हुए थे। शैलेष का आरोप है कि पूर्व विधायक नलिन कोटडिया से जब उन्‍होंने मदद मांगी थी तो राजनीतिज्ञ ने उलटे पुलिस को फिरौती की रकम देने के लिए दबाव बनाया था।

बिल्‍डर शैलेष भट्ट ने बताया कि नवंबर, 2016 में नोटबंदी के बाद उनके सामने नकदी को निवेश करने का सवाल पैदा हो गया था। उसी वक्‍त वह सूरत के किरीट पालडिया के संपर्क में आए थे। पालडिया ने शैलेष को बिकॉइन में पैसे लगाने की सलाह दी थी। धीरे-धीरे शैलेष के पास 200 बिटकॉइन इक_ा हो गए थे। शैलेष ने सीबीआई अधिकारी सुनील नायर पर कार्यालय में बुलाकर मारपीट करने का भी आरोप लगाया है।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


आईसीसी टेस्ट रैंकिंग : विराट कोहली शीर्ष पर बरकरार, पुजारा चौथे नंबर पर

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): आस्ट्रेलियाई जमीन पर अपनी अगु...

कल प्रेमिका गिन्नी के साथ शादी रचाएंगे कपिल शर्मा, सामने आई प्री-वेडिंग की तस्वीरें

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): हास्य अभिनेता-निर्माता कपिल शर्मा कल यानी 12 दिसंबर को अपनी प्...

top