Wednesday, December 12,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

कुशीनगर हादसे के बाद रेलवे का बड़ा फैसला 

Publish Date: April 26 2018 02:50:19pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): रेलवे बोर्ड ने आज कहा कि श्रेणी 'ए' और 'बी'श्रेणी ब्रॉड गेज रेलवे लाइनों पर चौकीदार रहित रेलवे क्रॉसिंग जून तक पूरी तरह से समाप्त हो जाएंगी। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्वनी लोहानी ने आज यहां रेल भवन में पत्रकारों को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि देश में कुल मिलाकर चौकीदार रहित रेलवे क्रॉसिंग 31 मार्च 2018 की स्थिति के अनुसार 3479 हैं जबकि एक साल पहले 31 मार्च 2017 को यह संख्या 4943 थी।

उन्होंने कहा कि ए एवं बी श्रेणी की रेललाइनों पर चौकीदार रहित रेलवे क्रॉसिंग अब केवल 20 से 30 बाकी रह गयीं हैं जो जून तक पूरी तरह से खत्म हो जाएंगी। गौरतलब है कि रेलवे ने 130 किलोमीटर प्रतिघंटा से अधिक रफ्तार वाली गाडिय़ों के मार्ग को 'ए' श्रेणी और 130 किलोमीटर प्रतिघंटा तक की गति से चलने वाली गाडिय़ों के मार्ग को 'बी' श्रेणी की लाइन के रूप में वर्गीकृत किया है। 'सी' श्रेणी की लाइनों पर बहुत मामूली यातायात होता है और गति भी कम रहती है। लोहानी ने उत्तर प्रदेश में कुशीनगर जिले में चौकीदार रहित रेलवे क्रॉसिंग पर आज सुबह हुई दुर्घटना पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि चौकीदार रहित क्रॉसिंग बंद करने के लिए प्रयास तेजी से चल रहे हैं लेकिन ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए जनता को भी सहयोग देना चाहिए। उत्तर प्रदेश में कुशीनगर के बिशनपुरा क्षेत्र में आज सुबह सीवान-गोरखपुर रेल खण्ड पर मानव रहित रेलवे क्रासिंग पर एक स्कूल वाहन और ट्रेन के बीच हुइ भीषण टक्कर में कम से कम 13 बच्चों की मृत्यु हो गई तथा चालक सहित सात बच्चे घायल हो गए। यह रेल खंड 'सी' श्रेणी में आता है।

उन्होंने कहा कि घटनास्थल से मिली आरंभिक जानकारी के अनुसार स्कूली बच्चों के वाहन के चालक को गेटमित्र ने रोकने का प्रयास किया था लेकिन कानों में ईयरफोन लगा होने के कारण उसने ध्यान नहीं दिया और गाड़ी को सीधे पटरी पर ले आया। उन्होंने कहा कि मीडिया में ऐसी अनेकों घटनायें रिपोर्ट होतीं हैं कि ईयरफोन लगा कर रेलवे ट्रैक के समीप गये लोगों की जान चली गयी या सेल्फी लेने के चक्कर में दुर्घटना के शिकार हो गये। लेकिन इसके बावजूद ऐसी घटनायें जारीं हैं। तो ऐसे में लोगों को अधिक जागरूक एवं सतर्क करना ज़रूरी है। लोहानी ने कहा कि चौकीदार रेलवे क्रॉसिंग में 40 प्रतिशत पर फाटक लगाकर चौकीदार की तैनाती की जाएगी जबकि बाकियों पर ओवरब्रिज या अंडरपास बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि रेल प्रशासन के सतत प्रयासों से रेल दुर्घटनाओं में साल दर साल कमी आ रही है। वर्ष 2014-15 में कुल रेल दुर्घटनाएं 135 हुईं जिनमें चौकीदार रहित क्रॉसिंग पर होने वाली दुर्घटनाओं की संख्या 50 है, वर्ष 2015-16 में ये आंकड़े 107 और 29, 2016-17 में 104 और 20 तथा वर्ष 2017-18 में 73 और 10 रहे। यानी बीते साल कुल रेल दुर्घटनाएं 73 हुईं जिनमें चौकीदार रहित क्रॉसिंग पर होने वाली दुर्घटनाओं की संख्या मात्र दस थी। 

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष अश्विनी लोहानी के लिए इमेज परिणाम

Kushinagar accident के लिए इमेज परिणाम

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पीवी सिंधू की धमाकेदार शुरुआत, पूर्व चैंपियन यामागुची को दी मात

गुआंगझू (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत की स्टार महिला शटलर पीवी स...

Kapil Sharma Wedding: बारात लेकर कपिल शर्मा पहुंचे क्लब कबाना

जालंधर (उत्तम हिन्दू न्यूज): कॉमेडियन कपिल शर्मा गिन्नी संग विवाह रचाने के लिए बारात के सा...

top