Sunday, December 09,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

नासा ने किया रिपोर्ट जारी, आग की चपेट में आधा हिन्दुस्तान 

Publish Date: April 30 2018 05:01:58pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : आधा भारत आग से झुलस रहा है। यह बात कोई साधारण एजेंसी ने नहीं अमेरिकी स्पेस एजेंसी, नासा ने कही है। बीते 10 दिनों की तस्वीरों की व्याख्या करने के बाद नासा ने साफ किया है कि भारत के बड़े हिस्से में आग जैसी लगी दिख रही है। यह स्थिति उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ समेत दक्षिण के भी कई राज्यों में दिख रही है। मौसम में इसके चलते मौसम में बहुत अधिक गर्मी पैदा हो रही है और ब्लैक कार्बन पलूशन भी फैलता है। इस रिपोर्ट के बाद चर्चा तेज हो गयी है कि केवल पंजाब-हरियाणा के किसान ही पराली नहीं जलाते, अब यह प्रचलन पूरे देश में प्रारंभ हो गया है। यहां यह भी बता दें कि विगत दिनों पराली जलाने के कारण मध्य प्रदेश में कुछ किसानों को हिरासत में भी लिया गया था। 

भारत के बड़े हिस्से में दिख रहे आग के ये निशान जंगलों की आग की वजह से भी हो सकते हैं, लेकिन नासा के गॉडडार्ड स्पेस फ्लाइट सेंटर स्थित रिसर्च साइंटिस्ट हिरेन जेठवा ने बताया कि मध्य भारत में आग के ऐसे निशान दिखने की वजह जंगलों की आग नहीं है बल्कि फसलों के अवशेष जलाया जाना है। मतलब साफ है कि फसलों के अवशेष को जलाने के कारण ये परिस्थति उत्पन्न हुई है। कृषि वैज्ञानिकों का कहना है कि फसलों के अवशेष जलाने का प्रचलन इसलिए तेजी से बढ़ रहा है क्योंकि किसान अब फसलों की कटाई मशीनों से करने लगे हैं और इसके चलते खेत में अवशेष रह जाते हैं। 

लिहाजा फसलों का खेत से हटाना आसान नहीं होता, ऐसे में किसान उन्हें जलाना आसान समझते हैं। फसलों के अवशेष को जलाने का प्रचलन अब हरियाणा और पंजाब जैसे उत्तरी राज्यों तक ही सीमित नहीं है। धान की पराली को पहले से ही किसान खेतों में जलाते रहे हैं क्योंकि यह पशुओं के लिए चारे के तौर पर अच्छा विकल्प नहीं माना जाता है। अब गेहूं की फसल के अवशेष जलाने का प्रचलन भी जोर पकड़ रहा है। नासा द्वारा सैटलाइट से ली गई तस्वीरों में जिन राज्यों में आग लगने के निशान नजर आ रहे हैं वे गेहूं और धान की खेती के लिए जाने जाते हैं। फसल की कटाई के दो तरीके प्रचलित हैं, एक किसान द्वारा खुद फसल काटना और दूसरा मशीनों का इस्तेमाल। मजदूरों की कमी के कारण मशीनों से फसल काटने का ट्रेंड इन दिनों तेजी से बढ़ा है। 

तस्वीरों के मुताबिक आग की ऐसे निशान सबसे ज्यादा मध्य प्रदेश में देखे गए हैं। यह राज्य गेहूं और धान की खेती में अग्रणी है। मध्य प्रदेश के ही सीहोर जिले में इस साल 10 किसानों को गेहूं की फसल के अवशेष जलाने पर हिरासत में ले लिया गया था क्योंकि उनकी लगाई आग पड़ोस के खेतों तक भी पहुंच गई थी और पड़ोस के खेत में आग लगने से लाखों की फसल बरबाद हो गयी थी। इसी सिलसिले में उक्त किसानों को हिरासत में लिया गया था। 

large parts of india dotted with fires due to crop burning says nasa images

Related image

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


एडिलेड टेस्ट : एडिलेड में 15 साल बाद जीत के करीब पहुंचा भारत

एडिलेड (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय गेंदबाजों रविचंद्रन अश्वि...

'गोपी बहू' गिरफ्तार, हीरा व्यापारी की हत्या में शामिल होने का आरोप 

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : एक हीरा व्यापारी की हत्‍या के सि...

top