Tuesday, December 18,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

कर्नाटक चुनाव: भाजपा उम्मीदवार श्रीरामुलू को अयोग्य ठहराने की कांग्रेस की मांग

Publish Date: May 11 2018 04:42:03pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): कांग्रेस ने शुक्रवार को निर्वाचन आयोग से कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रत्याशी बी. श्रीरामुलू को गिरफ्तार करने और उनकी उम्मीदवारी रद्द करने की अपील की। श्रीरामुलू पर रिश्वत लेने का आरोप है। कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए 12 मई को होने वाले मतदान के लिए चुनाव प्रचार के अंतिम दिन गुरुवार को एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें श्रीरामुलू देश के पूर्व प्रधान न्यायाधीश के.जी. बालाकृष्णन को जी. जनार्दन रेड्डी की खनन कंपनी के पक्ष में आदेश देने के लिए रिश्वत दे रहे हैं।

कांग्रेस ने शुक्रवार को इस रिश्वतकांड में संलिप्त श्रीरामुलू सहित सभी आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है। श्रीरामुलू, कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दारमैया के खिलाफ बदामी विधानसभा क्षेत्र से तथा मोलाकलमुरू से उम्मीदवार हैं।

कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा, कपिल सिब्बल, मुकुल वासनिक, रणदीप सुरजेवाला, आर.पी.एन. सिंह और पी.एल. पुनिया के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य निर्वाचन आयुक्त ओमप्रकाश रावत से मुलाकात कर उन्हें ज्ञापन सौंपा। नेताओं ने कहा कि कन्नड़ मीडिया द्वारा जारी यह सबूत महत्वपूर्ण और चौंकाने वाला है तथा कर्नाटक चुनाव में श्रीरामुलू की उम्मीदवारी रद्द की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि प्राप्त सबूत दो स्थानों से उम्मीदवार श्रीरामुलू की उम्मीदवारी रद्द किए जाने के लिए काफी हैं। स्थानीय कन्नड़ मीडिया में व्यापक तौर पर प्रसारित 40 मिनट के वीडियो में स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है कि श्रीरामुलू और तीन अन्य व्यक्ति (जी. जनर्दन रेड्डी, कैप्टेन रेड्डी और स्वामीजी) सर्वोच्च न्यायालय के एक पूर्व प्रधान न्यायाधीश के दामाद के साथ बैठे हुए हैं।

ज्ञापन के अनुसार, वीडियो में सर्वोच्च न्यायालय में रेड्डी बंधुओं के पक्ष में फैसला सुनाने के लिए प्रधान न्यायाधीश के दामाद को रुपये के भुगतान के संबंध में उन सबके बीच बातचीत हो रही है।

सिब्बल ने कहा, गुरुवार को जब यह वीडियो टीवी चैनलों पर प्रसारित हो रहा था, तब कर्नाटक के मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने इस खास वीडियो के राज्य में टीवी चैनलों पर प्रसारण पर रोक लगा दी। उन्होंने कहा, हमने कहा कि यह रोक हटाई जानी चाहिए, क्योंकि यह अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है.. इसपर जनता के बीच चर्चा होनी चाहिए।

सिब्बल ने कहा, श्रीरामुलू के रिश्वत मामले में शामिल होने के कारण उनके चुनाव क्षेत्र में कोई चुनाव नहीं होना चाहिए और उनकी उम्मीदवारी रद्द की जानी चाहिए। सिब्बल ने कहा कि भाजपा राजीव चंद्रशेखर चैनल के माध्यम से कर्नाटक के लोगों में नफरत फैला रही है। उन्होंने कहा, सोशल मीडिया पर, कांग्रेस के साथ पाकिस्तानी झंडे की तस्वीर फैलाई जा रही है। सांप्रदायिकता के प्रचार का यह सबसे वीभत्स रूप है। हमने चुनाव आयोग से इसके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


आईपीएल 12 की पहली बिक्री, 2 करोड़ में बिके हनुमा बिहारी

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): आईपीएल 12 में खिलाडिय़ों की नीलामी शुरू हो गई है। भारतीय खिलाड...

ये थी श्रीदेवी की आखिरी इच्छा. पति बोनी कपूर करेंगे पूरी

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): बॉलीवुड फिल्मकार बोनी कपूर अपनी प...

top