Wednesday, December 12,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

किसकी जेब में चले जाते हैं पेयजल के करोड़ों रुपये?: कमलनाथ

Publish Date: May 13 2018 06:39:26pm

भोपाल (उत्तम हिन्दू न्यूज): मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि भीषण गर्मी के समय प्रदेशभर में पेयजल संकट खड़ा हो गया है और सरकार अभी कार्ययोजना ही बना रही है। पेयजल के लिए आने वाले करोड़ों रुपये आखिर कहां खर्च हो जाते हैं और किसकी जेब में चले जाते हैं? उन्होंने कहा कि तापमान 40 डिग्री से ऊपर पहुंच गया है और अब कार्ययोजना बनाई जा रही है। सरकार को वास्तव में कार्ययोजना जनवरी में ही बना लेनी चाहिए थी।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने रविवार को एक विज्ञप्ति जारी कर कहा कि बुंदेलखंड में तो हालत यह है कि आधी आबादी रोजगार के लिए पलायन को मजबूर है। वैसे भी इस सरकार ने बुंदेलखंड के साथ हमेशा सौतेला व्यवहार ही किया है। हर साल पेयजल के लिए करोड़ों रुपये बहाए जाते हैं, लेकिन उसका असर जमीन पर नजर नहीं आता। हर साल यह समस्या खड़ी हो जाती है। ज्यादातर कुएं और हैंडपंप सूख चुके हैं। चेकडैम में पानी नहीं है। 

कमलनाथ ने कहा कि रोजगार के लिए संचालित होने वाली मनरेगा योजनाएं ठप्प हैं। आमदनी का कोई जरिया न होने से लोग या तो गांव से पलायन कर रहे हैं या कर्ज ले रहे हैं और कर्ज न चुका पाने के कारण किसान आत्महत्या के लिए विवश हो रहे हैं। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पीवी सिंधू की धमाकेदार शुरुआत, पूर्व चैंपियन यामागुची को दी मात

गुआंगझू (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत की स्टार महिला शटलर पीवी स...

MeToo: साजिद खान को IFTDA का बड़ा झटका, 1 साल के लिए किया सस्पेंड

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): यौन उत्पीड़न के आरोप से घिरे सा...

top