Thursday, December 13,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

कर्नाटक : सरकार गठन के दावों के बीच सारा दारोमदार राज्यपाल पर टिका

Publish Date: May 15 2018 06:12:16pm

बेंगलुरू (उत्तम हिन्दू न्यूज): कर्नाटक चुनाव परिणाम के बाद सरकार के गठन पर सस्पेंस बन गया। प्रदेश में सर्वाधिक सीटें जीत कर भी भाजपा की राह रोकने के लिए कांग्रेस और जेडीएस ने हाथ मिला लिया है। विश्लेषकों की मानें तो सारा दारोमदार राज्यपाल पर टिक गया है। अभी के रुझानों और सीटों पर जीत हिसाब से जेडीएस किंगमेकर और किंग, दोनों ही बनने की भूमिका में नजर आ रही है। इसी बीच जेडीएस ने घोषणा कर दी है कि जनता दल(सेकुलर) के नेता एच.डी. कुमारस्वामी कर्नाटक के मुख्यमंत्री उम्मीदवार होंगे। दिल्ली में भाजपा संसदीय बोर्ड की बैठक होनी है। भाजपा के सीएम पद के उम्मीदवार बीएस येदुयुरप्पा ने दावा किया है कि 100 प्रतिशत कर्नाटक में भाजपा की सरकार बनाएगी। 

उधर, जेडीएस प्रवक्ता दानिश अली ने एक समाचार चैनल से कहा, यह बिल्कुल स्पष्ट है कि मुख्यमंत्री कुमारस्वामी होंगे। कर्नाटक के लोगों के आशीर्वाद से वह मुख्यमंत्री बनेंगे। यह पूछे जाने पर कि क्या कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित कर सकते हैं, जो सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है? उन्होंने कहा, कैसे (राज्यपाल भाजपा को बुला सकते) कर सकते हैं, जब बहुमत दो पार्टियों के साथ है? यह पूछे जाने पर कि क्या उपमुख्यमंत्री का पद कांग्रेस को पेश किया गया है? दानिश ने कहा कि पार्टी कांग्रेस से सरकार में शामिल होने को कहेगी। उधर, भाजपा ने भी सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया है। ऐसे में अब राज्यपाल के विवेक पर ही सबकुछ निर्भर करता है। कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल राजभवन पहुंच गया है। अगर राज्यपाल के रुख की बात करें तो कर्नाटक के ही पूर्व मुख्यमंत्री एसआर बोम्मई बनाम केंद्र सरकार का एक अहम मामला नजीर बन सकता है। बोम्मई केस में कोर्ट आदेश दे चुका है कि बहुमत का फैसला राजनिवास में नहीं बल्कि विधानसभा के पटल पर होगा। आमतौर पर राज्यपाल इस निर्देश का पालन करते हुए सबसे बड़े दल को सरकार बनाने का न्योता देते आए हैं। अगर ऐसा ही हुआ तो बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता मिलेगा क्योंकि अभी तक के रुझानों के मुताबिक बीजेपी 104, कांग्रेस 78, जेडीएस प्लस 38 और अन्य 2 सीटें पाती दिख रही हैं। ऐसे में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है। 

अब कर्नाटक की लड़ाई किसके पाले में जाएगी, इसका फैसला राज्यपाल को करना है। अगर राज्यपाल येदियुरप्पा को सरकार बनाने के लिए बुलाते हैं तो बीजेपी को विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना होगा। अभी की तस्वीर के मुताबिक तकनीकी तौर पर यह बहुमत बिना जेडीएस के साबित नहीं होगा। ऐसे में विधायकों की खरीद-फरोख्त की आशंकाओं को भी दरकिनार नहीं किया जा सकता।  

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


IND vs AUS: पर्थ टेस्ट के लिए 13 सदस्यीय भारतीय टीम का ऐलान, अश्विन और रोहित बाहर

पर्थ (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत के स्टार ऑफ स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन और बल्लेबाज रोह...

शादी के बंधन में बंधे ईशा अंबानी और आनंद पीरामल, देखें तस्वीरें

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): जाने माने बिजनेसमैन मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी ने आनं...

top