Tuesday, December 11,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

कर्नाटक की सियासी आग पहुंची बिहार, तेजस्वी ने पेश किया सरकार बनाने का दावा 

Publish Date: May 18 2018 02:50:23pm

पटना (उत्तम हिन्दू न्यूज) : कर्नाटक में राजनीतिक उठा-पटक के बीच बिहार में भी सियासी उहापोह की स्थिति बन गयी है। शुक्रवार को मुख्य विपक्षी राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेता एवं प्रदेश के पूर्व उप मुख्यमंत्री तजस्वी यादव ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक से मुलाकात की और कहा कि चूकि नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार अत्पमत में आ गयी है इसलिए अब उन्हें सरकार बनाने का मौका दिया जाए, लिहाजा उन्होंने सरकार बनाने का दावा पेश किया है। 

तेजस्वी यादव ने यह भी कहा कि जिस प्रकार कर्नाटक में सबसे बड़े दल को राज्यपाल ने सरकार बनाने का न्योता दिया है उसी प्रकार उसे भी सरकार बनाने का आमंत्रण दिया जाना चाहिए क्योंकि उसकी पार्टी प्रदेश में सबसे बड़ी पार्टी है। इससे पहले आरजेडी ने राजभवन मार्च का आयोजन किया फिर आरजेडी नेता तेजस्वी ने राज्यपाल से मुलाकत कर अपना आवेदन सौपा। इस मामले को लेकर जब कांग्रेस के नेता अखिलेश प्रसाद सिंह से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हमारे सभी विधायक तेजस्वी यादव के साथ हैं जब वे कहेंगे हम राज्यपाल के सामने परेड करने का तैयार हैं। 

कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी के आक्रामक रवैये के कारण कांग्रेस मानों चारो ओर से भाजपा पर प्रहार करने की योजना बनाई है। इसी आलोक में कांग्रेस ने गोवा में सरकार बनाने का दावा पेश किया और राज्यपाल मृदुला सिन्हा को पत्र सौंपकर सदन में बहुमत साबित करने के लिए न्योता देने की मांग की। यही नहीं मणिपुर विधानसभा में विपक्ष के नेता ओ इबोबी सिंह ने भी राज्यपाल से मुलाकात कर सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए न्यौता देने की मांग की है।

मणिपुर में 2017 में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान 60 सीटों में उनकी पाटीज़् ने 28 पर जीत दर्ज की थी और वह सबसे बड़ी पार्टी है और ऐसे में वह राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्यपाल ने मणिपुर विधानसभा की 60 में से 21 सीट जीतने वाली भाजपा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया था। इस बीच कांग्रेस ने राष्ट्रपति के समक्ष इस मामले को उठाने को फैसला किया है। राज्यसभा में पार्टी के नेता गुलाम नबी आजाद कर्नाटक विधायकों को लेकर राष्ट्रपति से शनिवार को मुलाकात करेंगे। आजाद आज शाम कर्नाटक से दिल्ली के लिए रवाना होंगे।

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल को सबसे ज्यादा सीटें मिली थी और उसने जनता दल यूनाइटेड के साथ मिलकर सरकार बनाई थी लेकिन बाद में जनता दल यूनाइटेड और भाजपा एक हो गए और सरकार बना ली। कर्नाटक में भाजपा 104 सीट जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी जिसे बुधवार को राज्यपाल वाजूभाई वाला ने सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया। हालांकि कांग्रेस और जेडीएस ने 117 विधायकों का समर्थन होने का जिक्र करते हुए अपनी सरकार बनाने का दावा पेश किया था लेकिन राज्यपाल ने सबसे बड़ी पार्टी भाजपा को सरकार बनाने का मौका दिया और 15 दिन में बहुमत साबित करने को कहा। भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा ने गुरुवार को सुबह मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


आईसीसी टेस्ट रैंकिंग : विराट कोहली शीर्ष पर बरकरार, पुजारा चौथे नंबर पर

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): आस्ट्रेलियाई जमीन पर अपनी अगु...

यूपी में 'केदारनाथ' के खिलाफ मामला दर्ज

लखनऊ (उत्तम हिन्दू न्यूज): उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में बॉ...

top