Wednesday, December 19,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

विधानसभा में भावुक हुए येद्दियुरप्पा ने छोड़ा सीएम पद, राज्यपाल ने स्वीकार किया इस्तीफा

Publish Date: May 19 2018 05:48:22pm

बेंगलुरु (उत्तम हिन्दू न्यूज): कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येद्दियुरप्पा ने कांग्रेस पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार के खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाते हुए विधानसभा में आज विश्वास मत प्रस्ताव पर मतदान से पहले ही अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी। उधर, राज्यपाल वजूभाई वाला ने मुख्यमंत्री बी एस येद्दियुरप्पा का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। येद्दियुरप्पा ने दो दिन पहले ही मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। उन्होंने विधानसभा में पेश विश्वास मत प्रस्ताव को सदन में कार्यवाही के दौरान आगे नहीं बढ़ाया। येद्दियुरप्पा ने विधायकों के शपथ ग्रहण के बाद अपने भावुक संबोधन में कांग्रेस पर साजिश करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस पार्टी ने यह सुनिश्चित किया कि भाजपा बहुमत साबित नहीं कर पाए। अपने भाषण में येदियुरप्पा ने पीएम मोदी का शुक्रिया अदा किया और कहा, शायद पहली बार किसी पीएम ने सीएम कैंडिडेट तय किया।

येदियुरप्पा ने कहा कि मैं बीते दो साल में राज्य के हर विधानसभा क्षेत्र और तहसील में गया। जहां मैंने लोगों से मिला और उनका दर्द महसूस किया। मेरे पास 104 विधायक हैं राज्य के लोगों ने हमें सहयोग किया और सबसे बड़ी पार्टी बनाया। लेकिन राज्ये की जनता ने कांग्रेस और जेडीएस को जनादेश नहीं दिया। उन्होंने कहा कि यो लोग आपस में लड़ते रहे और मुख्यमंत्री पद के लिए कहते रहे कि मैं बनूंगा और मैं बनूंगा। जबकि ये चुनाव में एक दूसरे के खिलाफ लड़ते रहे। 3700 किसानों ने राज्य में आत्महत्या की है। पूरा राज्य जानता है कि कांग्रेस ने कैसा शासन चलाया है। जबतक मैं जीवित हूं तब तक किसानों के लिए काम करता रहूंगा।  भाजपा ने गत 12 मई को हुए विधानसभा चुनाव में 104 सीटें जीतीं तथा राज्यपाल वजूभाई वाला ने उसे सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया।

राज्यपाल ने उसे बहुमत सिद्ध करने के लिए 15 दिनों का समय दिया। इस बीच कांग्रेस ने उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। शीर्ष न्यायालय ने हस्तक्षेप करते हुए आज शाम चार बजे श्री येद्दियुरप्पा को बहुमत साबित करने का आदेश दिया। येद्दियुरप्पा तीसरी बार राज्य के मुख्यमंत्री बने थे। वर्ष 2007 में उनका कार्यकाल महज सात दिनों का रहा था। दूसरी बार वह वर्ष 2008 में मुख्यमंत्री बने लेकिन खनन घोटाले में लोकायुक्त की ओर से भ्रष्टाचार के आरोप लगाये जाने के कारण उन्हें 2011 में इस्तीफा देना पड़ा। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


बेस प्राइज एक करोड़ में ही बिके युवराज सिंह, पहली बार मुंबई के लिए खेलेंगे 

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : एक समय में अपनी शानदार बल्ले...

दिलीप कुमार को धमकाने वाला बिल्डर जेल से छूटा, सायरा बानो ने पीएम मोदी से फिर मांगी मदद

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : अपने जमाने के मशहूर एक्टर दिलीप ...

top