Monday, December 17,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

योगी के आगमन से जगी मुगलकालीन सुरंग के जीर्णोद्धार की आस

Publish Date: May 20 2018 07:37:56pm

संतकबीरनगर (उत्तम हिन्दू न्यूज) : महान सूफी संत और समाज सुधारक कबीर की निवाज़्ण स्थली मगहर को खलीलाबाद से जोडने वाली मुगलकालीन सुरंग अपने जीणोज़्द्धार के लिये मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आगमन की बाट जोह रही है। मुख्यमंत्री का पद संभालने के बाद पहली बार मगहर में 21 मई को आ रहे योगी आदित्यनाथ के कार्यक्रम के साथ ही इस महत्वाकांक्षी परियोजना को लेकर लोगों में आस जगी है। 

स्थानीय लोगों का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कल जम्मू कश्मीर के जोजिला सुरंग की आधारशिला रखते हुए कहा कि यह सुरंग पर्यटन को बढ़ावा देगा और लोगों को रोजगार मिलेगा लेकिन मगहर में स्थित महान सूफी संत एवं ढाई आखर प्रेम के उपासक कबीर साहेब की निर्वाणस्थली को जोडऩे वाली लगभग आठ किमी लंबी खलीलाबाद से मगहर को जोडऩे वाली मुगल कालीन सुरंग के जीणोज़्द्धार की परियोजना चार साल से अधिक समय से उत्तर प्रदेश सरकार के पास लंबित है और ठंडे बस्ते में पड़ी है। 

इस परियोजना में न सिर्फ सुरंग के संरक्षण व जीर्णोद्धार की योजना है बल्कि मगहर स्थित महान सूफी संत कबीर साहेब की बुरी तरह क्षतिग्रस्त समाधि, मजार और गुफा के संरक्षण व जीर्णोद्धार की भी योजना शामिल है। कबीर की समाधि, मजार और उनकी एकांत साधना के लिए सदियों पुरानी गुफा जीर्ण शीर्ण हो चुकी है। जिससे इन इमारतों के अस्तित्व को खतरा बढ़ गया है। इसके साथ ही खलीलाबाद से मगहर तक जाने वाली मुगल कालीन सुरंग अपना अस्तित्व लगभग खो चुकी है। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


मां नयनादेवी के दरबार में पहुंचीं रवीना टंडन  

शिमला (उत्तम हिन्दू न्यूज): मशहूर बॉलीवुड अभिनेत्री रवीना टंडन आज मां नयनादेवी के दर्शनों ...

top