Monday, December 10,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

ऑकबिशप ने कहा-धर्मनिरपेक्षता को खतरा, ईसाई शुक्रवार को रखें व्रत

Publish Date: May 22 2018 01:56:10pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): दिल्ली के एक ऑर्कबिशप ने नया पंगा खड़ा कर दिया है। उन्होंने अरोप लगाया है कि देश के संविधान और धर्मनिर्पेक्षता को खतरा है इसलिए ईसाई समुदाय के लोग शुक्रवार को व्रत रखें। मसलन देश में अशांत राजनीतिक स्थिति, खतरे में पड़ी धर्मनिरपेक्षता और 2019 के आम चुनाव के लिए दिल्ली के ऑर्कबिशप ने पत्र जारी कर ईसाई समुदाय से जुड़े लोगों को हर शुक्रवार व्रत करने की अपील की है। 

इस अपील पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की ओर से गहरी नाराजगी भी जताई गई। दिल्ली के ऑर्कबिशप अनिल जोसेफ थॉमस काउटो ने दिल्ली के सभी चर्च और पादरियों को खत लिखकर कहा है कि हम एक अजीब से राजनीतिक माहौल में रह रहे हैं जिस कारण हमारे संविधान के लोकतांत्रिक मूल्यों और देश की धर्मनिरपेक्ष छवि पर संकट मंडराने लगा है। उन्होंने सभी ईसाइयों से यह भी आग्रह किया कि वे देश में एक साल के अंदर होने वाले आम चुनाव को देखते हुए राजनेताओं के लिए व्रत रखें। हालांकि आर्कबिशप के इस खत पर अब राजनीति गरमा गई है। केंद्र में सत्तारुढ़ बीजेपी ने इसे लेकर कड़ी आपत्ति जताई है। दिल्ली में पादरी की चि_ी पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, मुझे ऐसी किसी चि_ी की जानकारी नहीं है, लेकिन इस देश में मजहब के आधार पर भेदभाव नहीं होता, सभी अल्पसंख्यक सुरक्षित हैं।

अल्पसंख्यक मामलों के केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने इस खत पर नाराजगी जताते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी धर्म और जाति की बाधा को तोड़ते हुए बगैर भेदभाव के समग्र विकास के लिए काम कर रहे हैं। हम उनसे (बिशप से) महज प्रगतिशील मानसिकता के साथ सोचने के लिए कह सकते हैं। इस प्रकरण पर दिल्ली आर्कबिशप के सचिव फॉदर रॉबिन्सन का कहना है कि आर्कबिशप का पत्र न राजनीतिक है और न ही सरकार या माननीय प्रधानमंत्री के खिलाफ  है। गलत सूचना प्रसारित नहीं किया जाना चाहिए। यह महज प्रार्थना करने का निमंत्रण है और पहले भी ऐसे कई पत्र लिखे जा चुके हैं।

आर्कबिशप ने अपने पत्र में लिखा था, अगर हम 2019 की ओर देखें तो तब हमारे पास नई सरकार होगी। आइए, हम मई, 2018 से अपने देश के लिए प्रार्थना शुरू करते हैं। अपने देश और नेताओं के लिए हर समय प्रार्थना करना हमारी पवित्र प्रथा है, लेकिन जब हम आम चुनावों की तरफ बढ़ते हैं तो यह प्राथज़्ना बढ़ जाती है। उन्होंने लिखा, मैं अनुरोध करता हूं कि हम लोग हर शुक्रवार के दिन व्रत रखें।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


ऋषभ पंत ने रचा इतिहास, ये कारनामा करने वाले पहले विदेशी विकेटकीपर बने 

एडिलेड (उत्तम हिन्दू न्यूज): एडिलेड ओवल मैदान पर जहां एक ओर भ...

'मर्दानी 2' में नजर आएंगी रानी मुखर्जी

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): अभिनेत्री रानी मुखर्जी फिल्म '...

top