Monday, December 10,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

निपाह पर गहराया रहस्य, विशेषज्ञों ने कहा-चमगादड़ नहीं अरब से आयी बीमारी

Publish Date: May 26 2018 05:07:30pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : जानलेवा निपाह वायरस के मुख्य स्रोत को लेकर रहस्य गहराता जा रहा है। अभी तक यह बताया जा रहा था कि चमगादड़ से यह वायरस फैल रहा है, लेकिन राष्‍ट्रीय उच्‍च सुरक्षा पशु रोग संस्‍थान, भोपाल में चमगादड़ के खून और सीरम की जांच में ऐसा कुछ भी नहीं पाया गया है। सभी रिपोट्र्स नेगेटिव आई हैं। इनमें बताया गया है कि यह वायरस फैलने की मुख्य वजह चमगादड़ नहीं हैँ। 

केरल में इस वायरस की चपेट में आने की वजह से अभी तक 12 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं 20 लोग अस्पताल में भर्ती हैं। स्वास्थ्य अधिकारी अब यह जांच करेंगे कि 26 वर्षीय मोहम्मद साबिथ कहां-कहां गए थे। इनकी मौत निपाह की वजह से सबसे पहले हुई थी। इनके परिवार के तीन अन्य लोगों की भी इसी वायरस की वजह से मौत हो चुकी है। मोहम्मद सऊदी अरब में हेल्पर के तौर पर काम करते थे, वे फिलहाल वहीं से भारत लौटे थे। 

स्वास्थ्य और पशुपालन अधिकारी संक्रमण के संभावित स्रोतों की तलाश कर रहे हैं। जब अधिकारियों ने मूसा परिवार के कुएं में चमगादड़ को देखा तो उन्हें लगा था कि उन्हें स्रोत का पता लग गया। बता दें, चमगादड़ में एनआईवी(निपाह) वायरस प्राकृतिक तौर पर पाया जाता है, जिससे यह दूसरे जानवरों और इंसानों में जा सकता है। इसलिए अधिकारियों ने चमगादड़ का ब्लड सैंपल और सीरम देश की सबसे बड़ी पशु जांच लैब में भेजा था लेकिन वहां पर ऐसे कोई परिणाम समाने नहीं आए। 

विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक निपाह एक ऐसा वायरस है जो चमगादड़ों से इंसानों में फैलता है। यह जानवर और इंसानों दोनों में गंभीर बीमारियों की वजह बन सकता है। इस वायरस का मुख्‍य स्रोत फल खाने वाले चमगादड़ (फ्रुट बैट) हैं। इन्हें फ्लाइंग फॉक्स के नाम से भी जाना जाता है। निपाह वायरस के लक्षण दिमागी बुखार की तरह ही हैं। बीमारी की शुरुआत सांस लेने में दिक्‍कत, चक्कर आना, तेज सिरदर्द और फिर बुखार से होती है। इसके बाद बुखार दिमाग तक पहुंच जाता है, जिससे मरीज की मौत भी हो सकती है। हालांकि, अब तक इस भयानक निपाह वायरस का कोई वैक्‍सीन नहीं बन पाया है। बचाव ही इसका एकमात्र इलाज है। इससे संक्रमित रोगी की उचित देखभाल और डॉक्‍टरों की कड़ी निगरानी में रखा जाना चाहिए। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


भारत ने रचा इतिहास, 10 साल बाद ऑस्ट्रेलिया में पहली बार जीता टेस्ट

एडिलेड(उत्तम हिन्दू न्यूज)- विश्व की नंबर एक टीम इंडिया ने सा...

देबिना, गुरमीत वैश्विक सम्मेलन में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): अभिनेता गुरमीत चौधरी और अभिनेत्री...

top