Sunday, December 16,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

पाकिस्तानी गोलीबारी से बचाव के लिए सरकार बना रही है हजारों बंकर व सामुदायिक भवन 

Publish Date: May 27 2018 05:10:18pm

श्रीनगर (उत्तम हिन्दू न्यूज) : जम्मू-कश्मीर की सीमा पर पाकिस्तान की ओर से लगातार हो रही गोली-बारी को ध्यान में रखकर प्रािम चरण में सरकार 5,500 बंकर और आधुनिक सुविधाओं से सज्ज 200 सामुदायिक भवन का निर्माण करवा रही है। जम्मू-कश्मीर सरकार ने राजौरी जिले से इसकी शुरुआत भी कर दी है। स्थानीय प्रशासनिक सूत्रों से मिली खबर में बताया गया है कि पाकिस्तानी गोलाबारी के शिकार लोगों को तत्काल सहायता पहुंचाने के लिए ऐसा किया जा रहा है। बंकर भूमिगत बनाया जा रहा है और सामुदायिक भवन में सारी आधुनिक सुविधाएं होगी। साथ ही उसकी सुरक्षा की भी भी व्यवस्था की जाएगी। 

इस संदर्भ में एक आधिकारिक प्रवक्ता ने रविवार को बताया कि इस पूरी योजना में 153.60 करोड़ रुपये की लागत आने वाली है और इस परियोजना को केन्द्रीय गृह मंत्रालय एवं राज्य सरकार के संयुक्त तत्वावधान में बनाया जा रहा है। प्रवक्ता ने यह भी बताया कि इस परियोजना को इस साल के अंत तक पूरा कर लिया जाएगा। मिली जानकारी में बताया गया है कि आज राजौरी के जिला विकास आयुक्त शाहिद इकबाल चौधरी ने एक बैठक के दौरान सीमावर्ती निवासियों की सुरक्षा की सुविधा के लिए पारिवारिक बंकरों, सामुदायिक बंकरों, सामुदायिक हॉलों और सीमावर्ती भवनों के निर्माण की व्यवस्था की समीक्षा की।

जिला विकास आयुक्त चौधरी ने बताया कि नियंत्रण रेखा (एलओसी) के 120 किमी लंबी सीमारेखा के साथ सात ब्लॉक में कुल 5,196 बंकरों का निर्माण किया जा रहा है। इनमें सुंदरबन, किला दहरल, नौशेरा, दोंगी, राजौरी, पंजाग्रेन और मनजाकोटे शामिल हैं। उन्होंने कहा कि युद्धविराम के उल्लंघन के दौरान लोगों के आवास के लिए एलओसी से 0-3 किलोमीटर दूरी पर स्थित गांवों में 260 से अधिक समुदाय बंकरों और 160 सामुदायिक हॉल का निर्माण भी किया जा रहा है जहां से लोगों को तत्काल सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। यहां पर आपातकालीन सुविधाओं की व्यवस्था भी होगी। सरकार का दावा है कि इन बंकरों और सीमा भवनों की खासियत ये होगी कि इसमें हर वक्त कम से कम 10 हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित रखा जा सकेगा और उन्हें सभी प्रकार की सुविधा दी जा सकेगी। 

सरकारी सूचना में बताया गया है कि केन्द्रीय गृह मंत्रालय के दिशानिदेर्शों के अनुसार ब्लॉक स्तर परियोजनाओं की रूपरेखा तैयारी की जाएगी। बंकरों के निर्माण के लिए डिजाइन की गई निविदा प्रक्रिया एक सप्ताह के भीतर शुरू होगी और प्रक्रिया एक महीने के भीतर पूरी की जाएगी जिसके बाद बंकर, आश्रय और सामुदायिक हॉल का निर्माण किया जाएगा।

सूचना में यह भी बताया गया है कि एलओसी से 0-3 केएम रेंज में रहने वाले प्रत्येक परिवार को परियोजना के प्रथम चरण में परिवार बंकर प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा स्कूल, अस्पताल, पुलिस स्टेशनों, पुलिस मुख्यालयों, सरकारी भवनों और पंचायत घरों के पास सामुदायिक बंकरों और हॉल का निर्माण किया जाएगा। जो इन सरकारी और सामुदायिक व्यवस्था का संरक्षण कर सके। ये बंकर, हॉल व भवन शांति एवं युद्ध दोनों परिस्थितियों में उपयोगी होगा। 

आपको बता दें कि पिछले साल दिसंबर में, केंद्र ने जम्मू क्षेत्र में एलओसी के पास रहने वाले लोगों के लिए 415.73 करोड़ रुपये की लागत से 14,460 व्यक्तिगत और सामुदायिक बंकरों के निर्माण की घोषणा की थी। यह परियोजना उसी आलोक में प्रारंभ किया गया है ताकि सीमा पर बसने वाले लोग अपनी सुरक्षा सुनिश्चित कर सकें।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


Aus vs Ind: विराट कोहली ने रचा इतिहास, 25वां टेस्ट शतक जड़ तेंदुलकर को पीछे छोड़ा

पर्थ (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय कप्तान विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 25 शतक बना...

#MeToo की चिंगारी भड़काने वाली तनुश्री लौटेंगी अमेरिका, अपने बारे में किया बड़ा खुलासा 

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : भारत में मीटू की चिंगारी भड़काने...

top