Tuesday, December 11,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

हाईकोर्ट का CBSE को आदेश, दूसरी कक्षा तक के छात्रों को न दिया जाए होमवर्क

Publish Date: May 29 2018 07:53:44pm

चेन्नई (उत्तम हिन्दू न्यूज): मद्रास उच्च न्यायालय ने आज निर्देश दिया कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के दूसरी कक्षा तक के विद्यार्थियों को गृह कार्य (पढ़ाई से संबंधित काम) नहीं दिया जाए। 

राष्ट्रीय शैक्षणिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) ने सीबीएसई को पिछले माह सिफारिश की थी कि कक्षा दो तक के विद्यार्थियों को गृह कार्य नहीं दिया जाये और तीसरी कक्षा तक केवल तीन विषय पढ़ाए जायें। एनसीईआरटी ने उच्च न्यायालय में पेश अपने जवाब में कहा कि देशभर के लगभग 18 हजार सीबीएसई स्कूलों को इन सिफारिशों का सख्ती से पालन करना चाहिए। 

एक वकील एम पुरोषोत्तमन ने याचिका दायर करके उच्च न्यायालय से सीबीएसई स्कूलों को एनसीईआरटी के पाठ्यक्रम का सख्ती से पालन करने और छात्रों पर क्षमता से अधिक बोझ नहीं डालने का निर्देश देने की अपील की थी। एनसीईआरटी के मुताबिक कक्षा के विद्यार्थियों को ‘शिष्ट’ और ‘अद्भुत’ जैसे अलग-अलग वर्गों में वर्गीकृत करने से भेदभाव को बढ़ावा मिलता है। 

याचिकाकर्ता का कहना है कि एनसीईआरटी के पाठ्यक्रम के मुताबिक पहली कक्षा के बच्चाें को केवल तीन विषय-मातृभाषा, अंग्रेजी और गणित पढ़ाये जाने चाहिए लेकिन वास्तव में उन्हें स्कूलों में आठ विषय पढ़ने के लिए मजबूर किया जाता है। इस याचिका पर सुनवाई के दौरान न्यायालय ने सीबीएसई स्कूलों से एनसीईआरटी की सिफारिशों का पालन करने का निर्देश दिया। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


ऋषभ पंत ने रचा इतिहास, ये कारनामा करने वाले पहले विदेशी विकेटकीपर बने 

एडिलेड (उत्तम हिन्दू न्यूज): एडिलेड ओवल मैदान पर जहां एक ओर भ...

'मर्दानी 2' में नजर आएंगी रानी मुखर्जी

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): अभिनेत्री रानी मुखर्जी फिल्म '...

top