Wednesday, December 12,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

भारतीय फौजियों की जेब पर पड़ सकता है वर्दी के खर्च का बोझ 

Publish Date: June 04 2018 04:34:02pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : हथियार और युद्ध की अन्य सामग्री की खरीदारी व आपूर्ति के लिए भारतीय सेना के खर्चों में कटौती की जा रही है। इस कटौती से कई अन्य सामान की खरीदारी पर असर पड़ सकता है। सूत्रों के मुताबिक 
आयुध फैक्ट्रियों के उत्पादों की आपूर्ति घटाई जा रही है। इस 94 फीसदी सप्लाई को तकरीबन आधा यानि 50 फीसदी किया जा कता है। बताया जा रहा है कि मोदी सरकार ने हथियारों और पुर्जों की आपात खरीदारी के लिए अतिरिक्त फंड उपलब्ध नहीं कराया है। 

मीडिया रिपोट्र्स के मुताबिक सरकार के इस कदम से भारतीय सैनिकों के कपड़े, कॉम्बैट ड्रेस, बेल्ट्स, जूतों की सप्लाई प्रभावित होगी। अगर ऐसा होता है तो सैनिकों को यूनिफॉर्म व अन्य कपड़े खरीदने के लिए अपने पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं।  

तीन प्रोजेक्टों पर चल रहा काम
दरअसल सेना हथियारों और गोलाबारूद के स्टॉक को बनाए रखने के लिए तीन महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट पर काम कर रही है। इन तीन प्रोजेक्टों के लिए सेना को हजारों करोड़ रुपए फंड की जरूरत है। सूत्रों के मुताबिक केंद्र ने यह फंड अभी उपलब्ध नहीं कराया है जिस वजह से आर्मी अपने थोड़े से बजट से ही काम चलाने को मजबूर है। एक अधिकारी ने बताया कि आपातकालीन खरीदारी के लिए 5000 करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके हैं और अभी 6,739.83 रुपए का भुगतान बाकी है। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पीवी सिंधू की धमाकेदार शुरुआत, पूर्व चैंपियन यामागुची को दी मात

गुआंगझू (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत की स्टार महिला शटलर पीवी स...

Kapil Sharma Wedding: बारात लेकर कपिल शर्मा पहुंचे क्लब कबाना

जालंधर (उत्तम हिन्दू न्यूज): कॉमेडियन कपिल शर्मा गिन्नी संग विवाह रचाने के लिए बारात के सा...

top