Wednesday, December 12,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

मोदी की यात्रा से पहले भारत की चीन को नसीहत

Publish Date: June 08 2018 03:03:48pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत और चीन के संबंधों में हुए सुधार के बाद चीन ने भारत से 'वन-चाइना पॉलिसी' पर समर्थन मांगा है। जिसके जवाब में भारत ने चीन से कहा है कि वे उन प्रॉजेक्ट्स से दूर रहे, जो भारत की संप्रभुता का उल्लंघन करते हैं। इनमें पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में प्रॉजेक्ट्स और चाइना-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर (CPEC) शामिल हैं। चीन ने CPEC को लेकर भारत की आशंकाओं को दूर करने के लिए अभी तक कोई कदम नहीं उठाया है। 

चीन ने पीएम नरेन्द्र मोदी और शी चिनपिंग के बीच होने वाले इस वर्ष की दूसरी मीटिंग से पहले भारत को बताया है कि वन-चाइना पॉलिसी को स्वीकार करने से दोनों देशों के बीच आपसी विश्वास बढ़ाने में काफी मदद मिलेगी। वन-चाइना पॉलिसी में केवल पीपल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना को पहचाना जाता है और ताइवान या रिपब्लिक ऑफ चाइना को मान्यता नहीं दी जाती।

वन-चाइना पॉलिसी की पुष्टि किए बिना भारत और चीन का पहला संयुक्त बयान उस समय जारी हुआ था, जब तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने चीन के पूर्व प्रधानमंत्री वेन जियाबाओ की दिसंबर 2010 में मेजबानी की थी। चीन की जम्मू और कश्मीर के निवासियों को चीन की यात्रा के लिए पासपोर्ट पर स्टेपल्ड वीजा जारी करने की पॉलिसी के जवाब में भारत ने वन-चाइना पॉलिसी को मानने से इनकार कर दिया था। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पीवी सिंधू की धमाकेदार शुरुआत, पूर्व चैंपियन यामागुची को दी मात

गुआंगझू (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत की स्टार महिला शटलर पीवी स...

Kapil Sharma Wedding: बारात लेकर कपिल शर्मा पहुंचे क्लब कबाना

जालंधर (उत्तम हिन्दू न्यूज): कॉमेडियन कपिल शर्मा गिन्नी संग विवाह रचाने के लिए बारात के सा...

top