Monday, December 10,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

संयुक्त सचिव नियुक्त मामला : मायावती ने केंद्र सरकार के खिलाफ खाला मोर्चा

Publish Date: June 11 2018 06:07:53pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने संयुक्त सचिव स्तर पर निजी क्षेत्र से भी नियुक्ति की प्रक्रिया को नरेंद्र मोदी सरकार की प्रशासनिक विफलता करार देते हुए आज कहा कि यह एक खतरनाक प्रवृति है जिससे केंद्र में नीति निर्धारण में बड़े-बड़े पूँजीपतियों और धन्नासेठों के प्रभाव को और ज्यादा बढावा मिलेगा। मायावती ने यहां जारी एक बयान में संघीय लोक सेवा आयोग (यू.पी.एस.सी.) की परीक्षा दिये बिना ही केन्द्र सरकार के 10 महत्वपूर्ण विभागों में निजी क्षेत्र से भी संयुक्त सचिव स्तर की नियुक्ति की घोषणा पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा कि केंद्र और राज्यों की सरकारों के पास निविदा के आधार पर अनुभवी विशेषज्ञों को रखने की व्यवस्था है। लेकिन केन्द्र में संयुक्त सचिव के स्तर के पद पर बाहरी व्यक्ति को बिना यू.पी.एएस.सी. की स्वीकृति के उच्च सरकारी पदों पर नियुक्त करना सरकारी व्यवस्था का मजाक है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार गलत परंपरा की शुरूआत कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार किसी भी विभाग में विशेषज्ञों को तैयार करने में असमर्थ रही है।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


ऋषभ पंत ने रचा इतिहास, ये कारनामा करने वाले पहले विदेशी विकेटकीपर बने 

एडिलेड (उत्तम हिन्दू न्यूज): एडिलेड ओवल मैदान पर जहां एक ओर भ...

'मर्दानी 2' में नजर आएंगी रानी मुखर्जी

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): अभिनेत्री रानी मुखर्जी फिल्म '...

top