Sunday, December 16,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

हिन्दू-मुस्लिम कपल को मिला पासपोर्ट, अड़ंगा लगाने वाले अफसर का तबादला

Publish Date: June 21 2018 01:34:46pm

लखनऊ (उत्तम हिन्दू न्यूज) : अंततोगत्वा हिन्दू-मुस्लिम कपल का पासपोर्ट बना दिया गया। दरअसल, हिन्दू-मुस्लिम होने के कारण अधिकारियों ने दोनों का पासपोर्ट फिर से बनाने से इनकार कर दिया था। लिहाजा उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हिंदू-मुस्लिम कपल को पासपोर्ट ना मिलने के मामले में बड़ा एक्शन हुआ है। विवाद के बाद दोनों को नया पासपोर्ट जारी कर दिया गया है। वीरवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मोहम्मद अनस सिद्दीकी और उनकी पत्नी तन्वी सेठ ने मीडिया को इस बात की जानकारी दी। 

उन्होंने बताया कि अधिकारी ने मुझसे कल कहा था कि आप अपना धर्म परिवर्तन कीजिए और नाम बदलिए। गौ मंत्र पढि़ए और फेरे लीजिए। तब उसके बाद हो पाएगा। बुधवार को हिन्दू-मुस्लिम कपल का पासपोर्ट आवेदन लखनऊ पासपोर्ट ऑफिस में खारिज कर दिया गया था। मोहम्मद अनस सिद्दीकी और उनकी पत्नी तन्वी सेठ ने 2007 में शादी की थी और उन्होंने लखनऊ में पासपोर्ट के लिए आवेदन किया था। 

तन्वी का आरोप है कि पासपोर्ट ऑफिसर विकास मिश्रा ने उन्हें नाम बदलने को कहा और सिद्दीकी को धर्म बदलने के लिए भी कहा गया। शिकायत करने के एक दिन बाद संबंधित अधिकारी का तबादला कर दिया गया। लखनऊ के रिजनल पासपोर्ट ऑफिस के अधिकारी ने कहा कि ऐसे मामलों में कपल का शादी का प्रमाण-पत्र लेने का भी नियम नहीं है। कपल ने 19 जून को पासपोर्ट के लिए आवेदन किया था और 20 जून को पासपोर्ट कार्यालय में अप्वाइंटमेंट लेने के बाद गए थे। 

अनस जहां अपने पासपोर्ट को दोबारा इश्यू करने के लिए गए थे, वहीं तन्वी ने नए पासपोर्ट के लिए अप्लाई किया था। कपल ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट और ईमेल करके शिकायत की थी। कपल ने कहा कि पासपोर्ट ऑफिसर ने उन्हें अपमानित और शर्मिंदा किया। कपल की एक 6 साल की बेटी भी है। तन्वी ने कहा कि नाम न बदलना उनका पारिवारिक मामला है और इसको लेकर पासपोर्ट अधिकारी उन्हें कुछ नहीं कह सकते।

अप्वाइंटमेंट के दिन पासपोर्ट ऑफिस में कपल ने इंटरव्यू के दो स्टेज पार कर लिए लेकिन काउंटर-सी पर उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ा। तन्वी का काउंटर-सी पर नंबर पहले आया। तन्वी के मुताबिक, विकास मिश्रा नाम के अधिकारी ने जब डॉक्यूमेंट्स में पति का नाम मोहम्मद अनस सिद्दिकी देखा तो वह चिल्लाने लगा। अनस ने कहा-अधिकारी ने तन्वी से कहा कि उसे मुझसे शादी नहीं करनी चाहिए थी। मेरी पत्नी रोने लगी। 

इसके बाद अधिकारी ने तन्वी को कहा कि वह सभी डॉक्यूमेंट्स में अपना नाम बदलकर आए। तन्वी ने सुषमा स्वराज को ट्वीट किया-लखनऊ पासपोर्ट ऑफिस में अधिकारी विकास मिश्रा ने मेरे साथ खराब बर्ताव किया, क्योंकि मैंने मुस्लिम से शादी की है और अपना नाम नहीं बदला। वह इतनी तेजी से बात कर रहा था कि आसपास के लोग भी सुन रहे थे। मैं इससे पहले कभी इतनी बुरी तरह परेशान महसूस नहीं की।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


Aus vs Ind: विराट कोहली ने रचा इतिहास, 25वां टेस्ट शतक जड़ तेंदुलकर को पीछे छोड़ा

पर्थ (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय कप्तान विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 25 शतक बना...

#MeToo की चिंगारी भड़काने वाली तनुश्री लौटेंगी अमेरिका, अपने बारे में किया बड़ा खुलासा 

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : भारत में मीटू की चिंगारी भड़काने...

top