Saturday, December 15,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

तन्वी को धर्म के आधार पर हंगामा पड़ा मंहगा, शौहर बीवी के पासपोर्ट रद्द  

Publish Date: June 26 2018 08:47:42pm

लखनऊ (उत्तम हिन्दू न्यूज) : प्रदेश की राजधानी के बेहद चर्चित पासपोर्ट मामले में अंततोगत्वा आज हिंदू पत्नी तन्वी सेठ उर्फ  सादिया अनस के साथ ही उनके पति यानी शौहर मोहम्मद अनस सिद्दीकी का पासपोर्ट रद्द कर दिया गया। यही नहीं पासपोर्ट आवेदन के समय धार्मिक आधार पर विवाद खड़ा करने वाले दंपत्ति पर पांच हजार रुपया जुर्माना भी लगाया गया है। कल क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी पीयूष वर्मा के दिल्ली से लखनऊ आने पर इनका पासपोर्ट जब्त कर लिया गया था और जानकारियां एकत्र की जाने लगी थी। आपको बता दें कि पासपोर्ट विवाद के बाद वर्मा को दिल्ली तलब किया गया था। आज दोनों का पासपोर्ट रद्द कर दिया गया। खबर में बताया गया है कि इनको पीयूष वर्मा एक नोटिस भी देंगे।

आपको बता दें कि तन्वी सेठ उर्फ  सादिया अनस ने 19 जून को नया पासपोर्ट के लिए आवेदन किया था जबकि मोहम्मद अनस सिद्दीकी ने अपना पासपोर्ट रिन्यू कराने के लिए जमा किया था। तन्वी सेठ के नए पासपोर्ट के मामले में पुलिस ने इनके ऊपर तीन मामले निकाले हैं। इनके ऊपर आरोप है कि इन्होंने शादी के बाद नाम बदलने के बाद किसी को भी इसकी सूचना नहीं दी। नोएडा में पिछले 11 वर्ष से निवास करने की जानकारी भी नहीं दी। इसके साथ ही तन्वी ने नोएडा की एक कंपनी में अपने कार्यरत होने की बात भी छुपाई। 

तन्वी सेठ के पासपोर्ट की जांच करने के लिए ससुराल, कैसरबाग पहुंची पुलिस व स्थानीय अभिसूचना इकाई (एलआईयू) को उसके यहां (लखनऊ) रहने से संबंधित कोई दस्तावेज नहीं मिले। दो घंटे की पड़ताल और तन्वी के ससुरालीजनों से बातचीत के बाद टीम खाली हाथ लौट आयी। तन्वी ने पासपोर्ट के आवेदन में जो ब्यौरा दिया है उसके मुताबिक वह गोंडा में जन्मी हैं और कैसरबाग में नाज सिनेमाहॉल के पास चिकवाली गली झाऊलाल बाजार में रहने वाले अनस से उन्होंने शादी की है।

उन्होंने अपने आवेदन में नोएडा में रहने की बात भी लिखी है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के मुताबिक गोंडा से जांच करा ली गई है। पुलिस और एलआईयू की टीम तन्वी की ससुराल गई थी जहां उसके ससुर ए. सिद्दीकी व अन्य सदस्य मिले। टीम ने दो घंटे तक तन्वी के वहां रहने के साक्ष्य व दस्तावेज मांगे लेकिन ससुराल वाले कुछ भी नहीं दे सके। पासपोर्ट अधिनियम के मुताबिक आवेदक जो पता लिख रहा है, उस पर एक साल रहना जरूरी है। तन्वी ने कैसरबाग स्थित ससुराल का पता दिया है लेकिन वह एक साल से वहां नहीं रह रही हैं। इसी आधार पर तन्वी का पासपोर्ट खारिज कर दिया गया। 


 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पर्थ टेस्ट : दूसरे दिन का खेल खत्म, भारत का स्कोर- 173/3

पर्थ (उत्तम हिन्दू न्यूज) : भारत ने यहां पर्थ स्टेडियम में आस...

Isha weds Anand: मेहमानों की खातिरदारी करते दिखे अमिताभ, आमिर और शाहरूख, देखें तस्वीरें

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): देश के मशहूर बिजनेसमैन मुकेश अंबानी की बेटी ईशा अंबानी ने हाल ...

top