Wednesday, December 12,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

जुलाई अंत तक घर-घर चलेगा दस्तक अभियान

Publish Date: July 04 2018 02:21:39pm

भोपाल (उत्तम हिन्दू न्यूज): मध्यप्रदेश में बाल मृत्यु दर के प्रमुख कारणों को दृष्टिगत रखते हुए स्वास्थ्य एवं पोषण सेवाओं के सामुदायिक विस्तार के लिए दस्तक अभियान शुरू किया गया है।
 
आधिकारिक जानकारी के मुताबिक यह अभियान स्वास्थ्य एवं महिला बाल विकास विभाग के सहयोग से प्रदेशभर में चलाया जा रहा है। इसमें पाँच वर्ष से छोटे बच्चों वाले परिवारों के घर पर आशा, एनएनएम और आँगनबाड़ी कार्यकर्ता के संयुक्त दल द्वारा 31 जुलाई तक दस्तक दी जायेगी।

दस्तक अभियान का उद्देश्य पाँच वर्ष से कम उम्र के बच्चों में प्रमुख बाल्यकालीन बीमारियों की सामुदायिक स्तर पर सक्रिय पहचान द्वारा त्वरित प्रबंधन किया जाना है, जिससे बाल मृत्यु दर में वांछित कमी लाई जा सके। एसआरएस-2016 के अनुसार प्रदेश में पाँच वर्ष से कम उम्र के बच्चों में मृत्यु दर 55 प्रति 1000 जीवित जन्म है। इसके प्रमुख कारणों में बाल्यकालीन दस्त रोग एवं निमोनिया है और कुपोषण एवं एनीमिया अन्तर्निहित कारण हैं।

प्रदेश में 68.9 प्रतिशत बच्चे एनीमिक एवं 9.2 प्रतिशत बच्चे गंभीर कुपोषित हैं। राज्य में लगभग 81 प्रतिशत महिलाओं द्वारा संस्थागत प्रसव का लाभ लेने पर भी केवल 35 प्रतिशत नवजात शिशुओं को ही माँ पहला गाढ़ा पीला दूध का लाभ मिल रहा है। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


IPL-12 के लिए होने वाली नीलामी में हिस्सा लेंगे 346 खिलाड़ी

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 1...

MeToo: साजिद खान को IFTDA का बड़ा झटका, 1 साल के लिए किया सस्पेंड

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): यौन उत्पीड़न के आरोप से घिरे सा...

top