Wednesday, December 19,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

AMU से UP सरकार ने मांगा जवाब, कहा-वहां SC/ST को आरक्षण क्यों नहीं

Publish Date: July 04 2018 03:51:18pm

लखनऊ (उत्तम हिन्दू न्यूज) : उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति—अनुसूचित जनजाति आयोग के अध्यक्ष बृजलाल ने आज कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) अल्पसंख्यक संस्थान नहीं है। आयोग ने विश्वविद्यालय को नोटिस जारी कर आठ अगस्त तक जवाब मांगा है कि उसने अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों को आरक्षण क्यों नहीं दिया। बृजलाल ने कहा कि एएमयू अल्पसंख्यक संस्थान नहीं है । मैंने अनुसूचित जाति एवं जन​जाति के लोगों को आरक्षण नहीं देने के लिए एएमयू को नोटिस जारी किया है। 

जवाब आठ अगस्त तक मांगा गया है। उन्होंने कहा कि हमने पूछा है कि किन परिस्थितियों में अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों को आरक्षण का लाभ नहीं दिया गया । उच्चतम न्यायालय ने अभी ऐसा कोई आदेश नहीं जारी किया है, जिसमें एएमयू को आरक्षण देने से रोका गया हो । उच्च न्यायालय और उच्चतम न्यायालय के निदेज़्श के आलोक में यह तय है कि एएमयू अल्पसंख्यक संस्थान नहीं है। बृजलाल ने कहा कि अन्य केन्द्रीय विश्वविद्यालयों की तरह एएमयू भी केन्द्रीय कानून के तहत बना था। उसे अनुसूचित जाति एवं जन​जाति के लोगों को आरक्षण देना चाहिए।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


बेस प्राइज एक करोड़ में ही बिके युवराज सिंह, पहली बार मुंबई के लिए खेलेंगे 

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : एक समय में अपनी शानदार बल्ले...

दिलीप कुमार को धमकाने वाला बिल्डर जेल से छूटा, सायरा बानो ने पीएम मोदी से फिर मांगी मदद

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : अपने जमाने के मशहूर एक्टर दिलीप ...

top