Wednesday, December 12,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

पुलिस रिपोर्ट में अवांछित टिप्पणियों से उपजा है तन्वी सेठ पासपोर्ट विवाद

Publish Date: July 05 2018 06:54:18pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को साफ किया कि लखनऊ के विवादास्पद तन्वी सेठ पासपोर्ट मामले में पासपोर्ट देने की मानक प्रक्रिया का पूरी तरह से पालन किया गया था। उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा अपनी रिपोर्ट में की गयी अवांछित टिप्पणियों के कारण भ्रांति पैदा हुई है।
 
विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यहां नियमित ब्रीफिंग में इस बारे में उठ रहे सवालों का सिलसिलेवार ढंग से उत्तर दिया। उन्होंने कहा कि पिछले दाे सप्ताह से इस बारे में दुष्प्रचार चल रहा है। सुश्री तन्वी सेठ की ओर से 20 जून 2018 को पासपोर्ट का आवेदन किया गया था। पासपोर्ट सेवा केन्द्र को जो दस्तावेज उपलब्ध कराये गये थे, उनकी गंभीरता से जांच की गयी थी और पासपोर्ट अधिनियम के अंतर्गत उचित प्रक्रिया के अाधार पर नया पासपोर्ट जारी किया गया था। 

उन्होंने कहा कि तन्वी का नया पासपोर्ट, पोस्ट पुलिस वैरिफिकेशन यानी पासपोर्ट देने के पश्चात पुलिस सत्यापन के आधार पर दिया गया था। क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय ने दिसंबर 2017 के निर्णय के आधार पर पुलिस को दो पहलुओं पर रिपोर्ट देने को कहा था -पहला, क्या आवेदक भारतीय नागरिक है और दूसरा, क्या आवेदक के विरुद्ध कोई आपराधिक मामला लंबित है। उन्होंने कहा कि इन्हीं दो पहलुओं को आवेदन पत्र में छह बिन्दुओं में पूछा गया है। 

उन्होंने कहा कि 21 मई को विदेश मंत्रालय ने सभी राज्यों के पुलिस महानिदेशकों एवं पुलिस प्रमुखों को लिखा था कि एक जून से पासपोर्ट पुलिस सत्यापन उपरोक्त पहलुओं पर आधारित होगा। तन्वी सेठ के मामले में इन छह बिन्दुओं पर कोई प्रतिकूल रिपोर्ट नहीं थी। लेकिन जांच करने वाले पुलिस अधिकारी ने अपनी ओर से दो टिप्पणियां लिख कर रिपोर्ट को प्रतिकूल की श्रेणी में रख दिया। पुलिस अधिकारी ने शादी के बाद आवेदक का नाम बदल कर सादिया अनस हो जाने और आवास के पते के रूप में नाेएडा का पता नहीं लिखने का उल्लेख किया था और इसी आधार पर पासपोर्ट आवेदन प्रतिकूल करार दिया था। 

उन्होंने कहा कि पासपोर्ट नियमों में नये बदलावों के अनुसार किसी महिला को शादी के बाद पासपोर्ट में नाम बदलना जरूरी नहीं है। जहां तक पते की बात है तो आवेदक ने आधार कार्ड और संयुक्त बैंक खाता पासबुक की प्रति दी थी जो सही थे। इसलिए मौजूदा नियमों के तहत तन्वी सेठ को पासपोर्ट जारी किया गया था। 

एक सवाल पर उन्होंने स्वीकार किया पासपोर्ट सत्यापन रिपोर्ट लिखने वाले पुलिस अधिकारी की अवांछित टिप्पणियां इस विवाद के लिए जिम्मेदार हैं। यह पूछे जाने पर कि क्या विदेश मंत्रालय उत्तर प्रदेश सरकार को उक्त पुलिस अधिकारी की अवांछित टिप्पणियों के लिए उनके विरुद्ध कार्रवाई करने की सिफारिश करेगी, प्रवक्ता ने कहा कि पासपोर्ट अधिकारी का तबादला और ये प्रशासनिक विषय हैं।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पीवी सिंधू की धमाकेदार शुरुआत, पूर्व चैंपियन यामागुची को दी मात

गुआंगझू (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत की स्टार महिला शटलर पीवी स...

Kapil Sharma Wedding: बारात लेकर कपिल शर्मा पहुंचे क्लब कबाना

जालंधर (उत्तम हिन्दू न्यूज): कॉमेडियन कपिल शर्मा गिन्नी संग विवाह रचाने के लिए बारात के सा...

top