Wednesday, December 12,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

मोदी का ममता पर हमला, कहा-मां, माटी और मानुष की बात करने वालों का चेहरा उजागर

Publish Date: July 16 2018 02:15:58pm

मिदनापुर (उत्तम हिन्दू न्यूज) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को पश्चिम बंगाल के मिदनापुर शहर में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हमने ऐतिहासिक निर्णय लेते हुए बांस को पेड़ की जगह घास माना जिससे किसान खेत में उसे उगा सकता है और काट कर बेच सकता है। इस दौरान उन्होंने हाल ही में खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाए जाने के केंद्र के फैसले के बारे में लोगों को जानकारी दी। उनकी यह रैली मिदनापुर कॉलेज ग्राउंड में हुई। पीएम ने रैली के दौरान मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ ही वामपंथी दलों पर भी जम कर निशाना साधा। 

प्रधानमंत्री के मेदनापुर रैली की सबसे खास बात यह रही कि पीएम ने रैली को संबोधित करते हुए सबसे पहले सीएम ममता बनर्जी का स्वागत किया। पीएम ने कहा कि मेरे स्वागत में ममता दीदी ने जो पोस्टर्स लगवाए हैं, उनके लिए मैं उनका दिल से आभार व्यक्त करता हूं। बता दें कि पीएम की रैली के मद्देनजर टीएमसी सरकार की तरफ से जगह-जगह पोस्टर्स और बैनर्स लगवाए गए हैं।

पीएम मोदी की इस रैली को सूबे में बीजेपी के 2019 चुनाव के लिए अभियान की शुरुआत के तौर पर देखा जा रहा है। माना जा रहा है कि कृषक कल्याण रैली में प्रधानमंत्री फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी के हालिया फैसले समेत किसानों के हित में अपनी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के जरिए उन्हें लुभाने की कोशिश करेंग। बता दें कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी जिस तरह से मुख्य विपक्षी के तौर पर उभर रही है, उसे देखते हुए पार्टी को 2019 में सूबे से काफी उम्मीदें हैं।

रैली में पीएम मोदी ने कहा कि बंगाल में हुए पंचायत के चुनावों में हिंसा और आंतक का माहौल होने के बाबजूद जिस प्रकार से बंगाल की जनता ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को समर्थंन दिया है उसके लिए मैं जनता को धन्यवाद देता हूं। उन्होंने कहा कि सिंडिकेट की मर्जी के बिना पश्चिम बंगाल में कुछ भी करना मुश्किल हो गया है। ये सिंडिकेट है जबरन वसूली का, ये सिंडिकेट है किसानों से उनका लाभ छीनने का। पीएम ने कहा कि ये सिंडिकेट है अपने विरोधी की हत्या करने वालों का है और ये सिंडीकेट है गरीब पर अत्याचार करने का। 

रैली के दौरान प्रधानमंत्री ने जमकर विरोधियों पर निशाना साधा और कहा कि किसान को लाभ नहीं, गरीब का विकास नहीं, नौजवान को नए अवसर नहीं, जगाई उन्नयन और मधाई उन्नयन पश्चिम बंगाल की अब नई पहचान बनता जा रहा है। उन्होंने कहा कि दशकों के वामपंथी शासन ने पश्चिम बंगाल को जिस हाल में पहुंचाया, आज बंगाल की हालात उससे भी बदतर होती जा रही है। बंगाल में नई कंपनी खोलनी हो, नए अस्पताल खोलने हों, नए स्कूल खोलने हों, नई सड़क बनानी हो, बिना सिंडिकेट को चढ़ावा दिए, उसकी स्वीकृति लिए, कुछ भी नहीं हो सकता। 

मोदी ने कहा कि मां-माटी-मानुष की बात करने वालों का पिछले 8 साल में असली चेहरा, उनका सिंडिकेट सामने आ चुका है। सिंडिकेट की मजीज़् के बिना पश्चिम बंगाल में कुछ भी करना मुश्किल हो गया है। बंगाल में सिंडिकेट शासन चला रहा है, यहां तुष्टिकरण की राजनीति की जा रही है। किसान हमारे अन्नदाता और गांव हमारे देश की आत्मा हैं। कोई भी समाज तब तक आगे नहीं बढ़ सकता। अगर देश का किसान उपेक्षित हों तो कोई भी देश आगे नहीं बढ़ सकता है। 22 हजार ग्रामीण हाट को मुख्य बाजार से जोडऩे के लिए काम कर रहे हैं। 

किसानों की बात करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि हमारी सरकार के द्वारा किसानों को उचित मूल्य दिलाने के लिए बाजार सुधार के लिए काम किया जा रहा है। सवा सौ करोड़ भारतीय मिलकर नए भारत के सपने को सच करने के लिए प्रयास कर रहे हैं। हमने बीज से लेकर बाजार तक काम किया है, सुधार किया है, कई कदम उठाए हैं। जंगलों में जो आदिवासी बांबू की जिदंगी जी रहा है उसे बांबू बेचने का हक नहीं, हमने इसमें सुधार किया। हमने बंबू को ग्रास मान लिया, घास मान लिया, तृणमूल मान लिया, इसकी कोई भी खेती कर सकता है। केंद्र में भारतीय जनता पाटीज़् की सरकार बनने के बाद हमारी सरकार ने किसानों को डेढ़ गुणा समथज़्न मूल्य देने का निणज़्य ले लिया। 

किसानों को रूस्क्क सही मिले इसके लिए किसान मांग करते रहे, आन्दोलन करते रहे लेकिन दिल्ली में बैठी सरकार ने किसानों की एक न सुनी। किसानों के लिए हमने इतना बड़ा फैसला किया है कि आज तृणमूल को भी इस सभा में हमारा स्वागत करने के लिए झंडे लगाने पड़े और उनको अपनी तस्वीर लगानी पड़ी, ये भाजपा की नहीं हमारे किसानों की विजय है। लेकिन किसी ने भी किसानों की रूस्क्क बढ़ाने की मांग नहीं मांगी, हमारी सरकार ने इसमें वृद्धि की है। हर सरकार में किसानों के लिए रूस्क्क बढ़ाने की मांग की गई, लेकिन फाइलों को दबा दिया गया। अंतिम व्यक्ति तक सरकार के कायज़्क्रमों का लाभ मिले इसके लिए काम किया जा रहा है। 


 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पीवी सिंधू की धमाकेदार शुरुआत, पूर्व चैंपियन यामागुची को दी मात

गुआंगझू (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत की स्टार महिला शटलर पीवी स...

Kapil Sharma Wedding: बारात लेकर कपिल शर्मा पहुंचे क्लब कबाना

जालंधर (उत्तम हिन्दू न्यूज): कॉमेडियन कपिल शर्मा गिन्नी संग विवाह रचाने के लिए बारात के सा...

top