Tuesday, December 18,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

वाराणसी में प्रवासी भारतीय सम्मेलन की तैयारी

Publish Date: August 06 2018 10:40:56am

वाराणसी (उत्तम हिन्दू न्यूज) : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वाराणसी में अगले साल जनवरी में प्रस्तावित प्रवासी भारतीय सम्मेलन के मद्देनजर यहां की विकास परियोजनाओं को अक्टूबर तक पूरा करने का निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिया है।

आधिकारिक सूत्रों ने सोमवार को यहां बताया मुख्यमंत्री ने रविवार रात यहां सर्किट हाउस में आला अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर यहां चल रही विकास परियोजनाओं की प्रगति की जानकारी ली। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों से कहा कि तय मानकों के अनुसार बाबतपुर फोर लेन, रिंग रोड फेज-एक और सीवर ट्रीटमेंट प्लांट जैसी जरूरी परियोजनाओं को हर हाल में अक्टूबर तक पूरा करें। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि लापरवाही करने वाले अधिकारियों के बख्शा नहीं जाएगा और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। 

योगी ने यहां के विधायकों, विधान पार्षदों एवं अन्य जनप्रतिनिधियों से मुलाकात के दौरान उनसे विकास परियोजनाओं की प्रगति पर नजर बनाये रखने की अपील करते हुए कहा कि स्थानीय स्तर पर कोई समस्या सामने आये तो उसे दूर करने वे सहोग करें ताकि निर्धारित समय पर काम पूरा किया जा सके।

उन्होंने अधिकारियों एवं जन प्रतिनिधियों से अगले वर्ष 21 से 23 जनवरी को यहां आयोजित होने वाले 15वें भारतीय प्रवासी सम्मेलन में आने वाले मेहमानों की सुविधा का ख्याल रखते हुए तैयारियां अभी से शुरु करने की अपील की। उन्होंने कहा कि विकास परियोजनाओं को हर हाल में जनवरी से पहले पूरा किया जाना चाहिए। इसके लिए सभी का सहयोग जरूरी है।

योगी ने वकीलों के एक प्रनिधिमंडल के साथ बैठक के बाद उन्हें आश्वासन दिया कि जिला अदालत परिसर या इसके आसपास बहुमंजली इमारत बनाकर वकीलों को आधुनिक सुविधाओं वाली जगह उपलब्ध करायी जाएगी।

अधिकरियों, वकीलों एवं जनप्रतिनिधियों के साथ अलग-अलग बैठकों के बाद रविववार रात मुख्यमंत्री श्री काशी विश्वनाथ मंदिर रवाना हुए। उन्होंने मंदिर में विधि विधान के साथ भगवान भोले की पूजा की। रात करीब नौ बजे 11 किलो दूध, बेल पत्र समेत अन्य समाग्री से चढ़ाकर देश एवं समाज की प्रगति की कामना की। इसके बाद मंदिर के पदाधिकारियों ने श्री योगी को अंगवस्त्र भेंट कर उन्हें सम्मानित किया।

योगी ने विश्वनाथ मंदिर पहुंचने से पहले ज्ञानवापी में कई कांवड़ियों से यहां की व्यवस्था के बारे में जानकारी ली तथा उनके साथ “बोल बम और हर हर महादेव” के जयकारे लगाकर उनका उत्साह बढ़ाया। मुख्यमंत्री के इस व्यवहार से कांवरिये बेहद खुश नजर आये। 

मुख्यमंत्री ने रविवार दोपहर चंदौली में रेलवे एक कार्यक्रम में भाग लेने आये थे। शाम उन्होंने वाराणसी में कैंथी के मार्कण्डेय महादेव मंदिर जाकर विधिविधान के साथ बाबा भोले की पूजा-अर्चना की थी। उन्होंने वाराणसी पुलिस लाइन में पौधे लगाकर लोगों को पर्यावरण के प्रति जागकरुक रहने का संदेश दिया था।

गौरतलब है कि योगी चंदौली में मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलकर “पंडित दीन दयाल उपाध्याय” करने समेत रेलवे की विभिन्न परियोजनाओं के लोकार्पण से संबंधित एक समारोह में भाग लेने यहां आएं थे।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


बेस प्राइज एक करोड़ में ही बिके युवराज सिंह, पहली बार मुंबई के लिए खेलेंगे 

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : एक समय में अपनी शानदार बल्ले...

दिलीप कुमार को धमकाने वाला बिल्डर जेल से छूटा, सायरा बानो ने पीएम मोदी से फिर मांगी मदद

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : अपने जमाने के मशहूर एक्टर दिलीप ...

top