Tuesday, December 11,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

समाज के लिए खतरनाक है स‍िंगल पेरेंटिंग: मद्रास हाई कोर्ट

Publish Date: August 11 2018 09:43:35am

चेन्‍नैई(उत्तम हिन्दू न्यूज)- बच्चों के सिंगल पैरंटिंग को लेकर मद्रास हाईकोर्ट ने कहा है कि यह समाज के लिए खतरनाक है। कोर्ट ने कहा कि बच्‍चे को माता और प‍िता दोनों की जरूरत होती है।

हाई कोर्ट ने कहा क‍ि माता-प‍िता में से क‍िसी एक के प्‍यार की कमी से बच्‍चे के व्‍यवहार में बदलाव आ सकता है। दोनों (माता-पिता) अकेले एक दूसरे की पूर्ति नहीं कर सकते। कोर्ट ने कहा कि इससे बच्‍चा समाज के ख‍िलाफ भी जा सकता है। बाल उत्पीड़न पर नियंत्रण के लिए कोर्ट की तरफ से दिए गए निर्देश को पूरा नहीं कर पाने के कारण केंद्र‍ीय मह‍िला एवं बाल व‍िकास मंत्रालय के सच‍िव के ख‍िलाफ एक अवमानना याचिका पर सुनवाई के दौरान मद्रास हाई कोर्ट के जस्‍ट‍िस एन. क‍िरूबकरन ने यह टिप्पणी की। इस मामले की सुनवाई के दौरान कोर्ट ने यह भी महसूस किया कि अब केंद्रीय मह‍िला एवं बाल व‍िकास मंत्रालय को दो हिस्सों में बांट देना चाहिए। 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400063000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


आईसीसी टेस्ट रैंकिंग : विराट कोहली शीर्ष पर बरकरार, पुजारा चौथे नंबर पर

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): आस्ट्रेलियाई जमीन पर अपनी अगु...

यूपी में 'केदारनाथ' के खिलाफ मामला दर्ज

लखनऊ (उत्तम हिन्दू न्यूज): उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में बॉ...

top