Sunday, December 16,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए केन्द्र को अौर धन देना चाहिए: राहुल

Publish Date: August 29 2018 06:06:19pm

कोच्चि (उत्तम हिन्दू न्यूज): कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बाढ़ प्रभावित केरल के लिए पर्याप्त वित्तीय सहायता उपलब्ध न कराने का राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) पर आरोप लगाते हुए बुधवार को कहा कि केन्द्र सरकार को राज्य के लिए और धन जारी करना चाहिए।

गांधी ने बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने के बाद संवाददाताओं से कहा, “मेरा मानना है कि केन्द्र सरकार को केरल को और अधिक वित्तीय सहायता देनी चाहिए। यह केरल के लोगों के लिए केन्द्र की देनदारी है। यह केरल के लोगों का हक है। मुझे दुख है कि केन्द्र सरकार और अधिक मदद कर सकती थी] लेकिन उसने ऐसा नहीं किया।” कांग्रेस अध्यक्ष ने एक फिर दोहराया कि वह केरल के हालात का राजनीतिक लाभ लेने यहां नहीं आये हैं, बल्कि केरल के लोगों के साथ खड़े होने आये हैं। उन्होंने कहा, “मैं यहां लोगों की भावनाओं को सुनने-समझने आया हूं। मैं लोगों का समर्थन करने आया हूं।”

गांधी ने कहा कि उन्होंने कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को स्पष्ट निर्देश दिये हैं कि वे लोगों के घरों के पुनर्निर्माण में सहायता करें। यह बात और है कि कांग्रेस पार्टी की अपनी कुछ सीमायें भी हैं, क्योंकि पार्टी केरल सरकार का हिस्सा नहीं है। उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात की ओर से बाढ़ पीड़ितों के लिए घोषित धनराशि की स्वीकार्यता-अस्वीकार्यता के बारे में पूछे जाने पर कहा, “मेरी इस मामले में निजी राय है। यदि केरल के लोगों की पीड़ा कम करने के लिए कोई बिना शर्त धन उपलब्ध कराता है तो मैं उसे स्वीकार करुंगा।”

उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत राजग सरकार पर ‘केन्द्रित’ दृष्टिकोण अपनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र सरकार केवल एक विचारधारा का सम्मान करती है, जो नागपुर आधारित विचारधारा है। उनका परोक्ष इशारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की ओर था। उन्होंने कहा, “भारत में दो विपरीत दृष्टिकोण हैं, एक केन्द्रीकृत दृष्टिकोण है तो दूसरा विकेन्द्रीकृत। एक दृष्टिकोण जहां केवल नागपुर अाधारित केंद्रीकृत विचारधारा का सम्मान करता है, वहीं दूसरा दृष्टिकोण सभी राज्यों, भिन्न-भिन्न विचारधाराओं, सभी पृथक संस्कृतियों और देश के सभी लोगों को शामिल करता है।”

गांधी ने कहा, “मेरा मानना है कि सरकार की ओर से राष्ट्रीय स्तर पर की गयी कुछ खास कार्रवाइयां अलोकतांत्रिक हैं और जिनसे हम लड़ रहे हैं। हम, विपक्षी दल इस संघर्ष से लड़ने के लिए एकजुट हैं। यह संघर्ष अभी जारी है।” कांग्रेस अध्यक्ष ने एक अन्य प्रश्न के उत्तर में कहा, “मैं यहां केरल के लोगों के साथ खड़ा होने आया हूं, मैं इसमें नहीं जा रहा हूं कि त्रासदी क्यों हुई, इसके लिए कौन जिम्मेदार हैं, यह मेरा अधिकार क्षेत्र नहीं है।” बाढ़ की विभीषिका में भी लोगों के हिम्मत की दाद देते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें इस पर गर्व है। उन्होंने कहा, “आपने पूरे देश को रास्ता दिखाया है।”
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, वर्ल्ड टूर फाइनल्स खिताब जीतने वाली पहली भारतीय बनीं  

ग्वांगझू (उत्तम हिन्दू न्यूज) : भारत की दिग्गज बैडमिंटन खिलाड...

#MeToo की चिंगारी भड़काने वाली तनुश्री लौटेंगी अमेरिका, अपने बारे में किया बड़ा खुलासा 

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : भारत में मीटू की चिंगारी भड़काने...

top