Monday, December 17,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

प्रदेश में महिलाओं के उच्च शिक्षा का प्रतिशत बढा है: नाईक

Publish Date: September 06 2018 06:26:46pm

फैजाबाद (उत्तम हिन्दू न्यूज): उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि प्रदेश में महिलाओं के उच्च शिक्षा का प्रतिशत बढ़ा है जो एक शुभ संकेत है। नाईक ने गुरूवार को नरेन्द्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय कुमारगंज के बीसवें दीक्षांत समारोह में गत वर्ष प्रदेश के पच्चीस विश्वविद्यालयों के दीक्षान्त समारोह के आंकड़े पेश करते हुए कहा कि प्रदेश में कुल पन्द्रह लाख साठ हजार उपाधियां विद्यार्थियों को प्रदान की गयी थीं जिसमें 51 प्रतिशत छात्रायें शामिल हैं। वहीं 1653 पदक प्रदान किये गये जिनमें 66 प्रतिशत पदक छात्राओं को प्राप्त हुए हैं। इससे लगता है कि प्रदेश में महिलाओं के उच्च शिक्षा का प्रतिशत बढ़ा है। उन्होंने उपाधि प्राप्तकर्ता विद्यार्थियों का आवाहन करते हुए कहा कि वे निष्ठा, कड़ी मेहनत और निरन्तर प्रयास से अपना लक्ष्य को पूरा करने में लग जाये। उन्होंने कहा कि पुरुषों से महिलायें निरन्तर आगे बढ़ रही हैं। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में उच्च शिक्षा का अनुशासित कैलेंडर के पालन को विश्वविद्यालयों द्वारा सुनिश्चित किये जाने का परिणाम है कि इस वर्ष 26 विश्वविद्यालयों में दीक्षांत समारोह 84 दिनों की अवधि में 26 अगस्त से प्रारम्भ होकर 15 नवम्बर के बीच सम्पन्न हो जाएंगे। उन्होंने उपाधि प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को शुभकामनाएं देते हुए उन्हें जीवन के नए आकाश में उड़ान की चुनौतियों के लिए तैयार रहने का संदेश दिया। 

इससे पूर्व समारोह केंद्रीय विश्वविद्यालय झांसी के चांसलर तथा भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद नई दिल्ली के पूर्व महानिदेशक डॉ पंजाब सिंह ने कहा कि भारतीय कृषि क्षेत्र की विषमताओं को दूर करते हुए हमें कृषि क्षेत्र की विकास दर में बढ़ोत्तरी के लिए प्रयास करना होगा। उन्होंने कहा कि गांव से शहरों की ओर युवाओं का पलायन रोकना चुनौती है। युवा वैज्ञानिकों का आह्वान करते हुए कहा कि हमारे वैज्ञानिकों को छोटी जोत के किसानों के लिए हल्के व सस्ते कृषि यंत्र विकसित करने होंगे साथ ही गुणवत्ता युक्त बीज, पौध सामग्री व तकनीकों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए पूरे मनोयोग से योगदान करना होगा। 

डॉ सिंह ने कहा कि बढ़ते रासायनिक पदार्थों के उपयोग से भूमि व फसलों में जैविक असन्तुलन को बचाना होगा। उन्होंने कहा कि कृषि विश्वविद्यालयों को शिक्षा प्रणाली में राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर तेजी से विकसित हो रही तकनीकी तथा आर्थिक व सामाजिक विकास की दृष्टि से गति देना होगा। कार्यक्रम को शिक्षाविद तथा कृषि वैज्ञानिक डॉ प्रेमलाल गौतम ने भी सम्बोधित किया। श्री नाईक ने डॉ गौतम को मानद उपाधि प्रदान की। दीक्षांत समारोह में कुल 588 छात्र-छात्राओं को विभिन्न पाठ्यक्रमों की उपाधियां तथा 42 मेधावियों को स्वर्ण पदक प्रदान किये गए। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


Aus vs Ind: विराट कोहली ने रचा इतिहास, 25वां टेस्ट शतक जड़ तेंदुलकर को पीछे छोड़ा

पर्थ (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय कप्तान विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 25 शतक बना...

#MeToo की चिंगारी भड़काने वाली तनुश्री लौटेंगी अमेरिका, अपने बारे में किया बड़ा खुलासा 

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज) : भारत में मीटू की चिंगारी भड़काने...

top