Wednesday, January 23,2019     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राष्ट्रीय

बगावत पर उतरे पूर्व CBI निदेशक आलोक वर्मा, दिया इस्तीफा

Publish Date: January 11 2019 03:43:37pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : सीबीआई के पूर्व निदेशक आलोक वर्मा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। 1979 की बैच के आईपीएस अफसर वर्मा को गुरुवार देर रात सीबीआई निदेशक पद से हटा दिया गया था और उन्हें सिविल डिफेंस, फायर सर्विसेस और होमगार्ड विभाग का महानिदेशक बनाया गया था। लेकिन शुक्रवार को वर्मा ने पहले तो फायर एंड सेफ्टी के डीजी के तौर पर नई जिम्मेदारी लेने से साफ इनकार कर दिया है और बाद में इस पद ले इस्तीफे का ऐलान कर दिया।

खास बात ये रही कि बेहद नाटकीय ढंग से वर्मा को दो दिन पहले ही सीबीआई प्रमुख पद  के लिए सुप्रीम कोर्ट ने बड़ी राहत देते हुए उन्हें छुट्टी पर भेजने के केंद्र सरकार के फैसले को खारिज कर दिया था। लेकिन इसके एक दिन बाद ही उन्हें पद से हटा दिया गया है। इसके बाद सरकार ने सीबीआई के डिप्टी निदेशक नागेश्वर राव को एजेंसी का अंतरिम निदेशक नियुक्त किया है औऱ पद संभालते ही राव ने वो सभी ट्रांसफर ऑर्डर रद्द कर दिए जो वर्मा ने जारी किए थे। 

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में बनाई गई उच्चस्तरीय चयन समिति में जस्टिस ऐ.के सीकरी और कांग्रेस के मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल थे। समिति ने 2:1 से लिए इस निर्णय में बर्मा को सीबीआई डायरेक्टर के पद से हटाने का फैसला लिया था।  समिति ने भ्रष्टाचार और कर्त्तव्य में लापरवाही बरतने के आरोप में गुरुवार को वर्मा को पद से हटा दिया था। हालांकि, समिति के इस फैसले पर खड़गे ने असहमति जताई थी। वहीं इस फैसले पर वर्मा ने दावा किया था कि उनका तबादला उनके विरोध में रहने वाले एक व्यक्ति की ओर से लगाए गए झूठे, निराधार और फर्जी आरोपों के आधार पर किया गया है।

कैसे शुरू हुआ विवाद 
2016 में सीबीआई में नंबर दो अफसर रहे आर.के. दत्ता का तबादला गृह मंत्रालय में कर दिया गया और अस्थाना को लाया गया। दत्ता भावी निदेशक माने जा रहे थे, लेकिन गुजरात कैडर के आई.पी.एस. अफसर राकेश अस्थाना सीबीआई के अंतरिम चीफ बना दिए गए। लेकिन अस्थाना की नियुक्ति को वकील प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे दी। इसके बाद फरवरी 2017 में आलोक वर्मा को सीबीआई चीफ बनाया गया। सीबीआई चीफ बनने के बाद आलोक वर्मा ने अस्थाना को स्पेशल डायरेक्टर बनाने का विरोध कर दिया। उन्होंने कहा था कि अस्थाना पर कई आरोप हैं, वे सीबीआई में रहने लायक नहीं हैं और वहीं से सीबीआई के दो बड़े अफसरों में घमासान शुरु हो गया।
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 7400043000 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें। फेसबुक-टिवटर पर हमसे जुड़ने के लिए www.fb.com/uttamhindu/ आैर www.twitter.com/DailyUttamHindu पर क्लिक करें आैर पेज को लाइक करें।


टीम इंडिया को झटका, न्यूजीलैंड के खिलाफ अंतिम दो वनडे और ट्वंटी-20 सीरीज नहीं खेलेंगे विराट 

नेपियर (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारतीय कप्तान विराट कोहली को न्य...

'83' के साथ बॉलीवुड में कदम रखेंगे एमी विर्क

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): पंजाबी गायक एमी विर्क आगामी फिल्म '83' के साथ बॉलीवुड ...

top