Wednesday, July 18,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
राजनीति

भाजपा को बहुमत नहीं मिलेगा पर मोदी 2019 में प्रधानमंत्री बनेंगे

Publish Date: March 24 2018 01:03:43pm

1. माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जन्म तारीख 17.9.1950, समय 12:09 बजे बडऩगर मेहसाना गुजरात में। अनुराधा नक्षत्र के दूसरे चरण वृश्चिक राशि व वृश्चिक लग्न वाली जन्मकुंडली में चंद्रमा व मंगल लग्न में बैठने से नीच भंग राजयोग बन रहा है व विष्णु लक्ष्मी योग का निर्माण हो रहा है।

2. जन्मपत्रिका में 1000 प्रकार के योग विभिन्न ग्रह योगों से बनते हैं। जिसमें पंचमहापुरुष राजयोग सर्वश्रेष्ठ है। पंचमहापुरुष राजयोग मंगल, बुध, शुक्र, गुरु, शनि कुंडली के 1, 4, 7, 10 केंद्र भाव में स्वग्रही या उच्च राशि के होने पर बनता है। पंचमहापुरुष राजयोग निर्माण में सूर्य व चंद्र ग्रह का योगदान नहीं रहता है।

3. जन्मकुंडली में मंगल वृश्चिक व मेष राशि में केंद्र भाव में रूचक नामक पंचमहापुरुष राजयोग का निर्माण करता है। बुध, कन्या व मिथुन राशि में भद्र नामक पंचमहापुरुष राजयोग का निर्माण करता है। शुक्र, तुला व वृष राशि में मालव्य नामक पंचमहापुरुष राजयोग बनता है। बृहस्पति, धनु व मीन राशि में बैठकर हंस नामक पंचमहापुरुष राजयोग का निर्माण करता है और शनि, मकर एवं कुंभ राशि में विराजमान होकर श नामक पंचमहापुरुष राजयोग निर्मित करता है।

4. मोदी जी की कुंडली में लग्न में मंगल, वृश्चिक राशि में बैठकर रूचक नामक पंचमहापुरुष राजयोग का निर्माण कर रहा है, जो पंचमहापुरुषों में एक अग्नि कारक बली राजयोग है। पारासर व श्रृंग ऋषि ने इसे परिजात राजयोग की संज्ञा दी है। शास्त्रों में इसे इच्छापूर्ति राजयोग कहा गया है। मोदी को इस राजयोग ने आत्मविश्वास, निर्णय शक्ति, पराक्रमी, सशक्त शब्दकोष, वाकचतुरता, वाकशक्ति, न्यायप्रिय व कूटनीतिज्ञ बनाया है?

5. मोदीजी की कुंडली में लग्न के चंद्रमा से चौथे भाव में बृहस्पति बैठने से गजकेसरी योग निर्माण हो रहा है, क्योंकि कुंडली में किसी भी भाव में बैठे चंद्रमा से 1, 4, 7, 10 स्थान पर गुरु के बैठने से गजकेसरी योग निर्मित होता है।

6. मोदीजी की कुंडली में पंचम भाव का स्वामी गुरु व अष्टम भाव स्वामी मंगल दोनों केंद्र में हैं तथा लग्नेश मंगल बलवान होकर स्वराशि का लग्न में विराजमान होने से शंखयोग का निर्माण हो रहा है। मोदी की आवाज शंखनाद की तरह होगी। शंखऋषि ने इसे शंखनिधि योग कहा है। इसे रजोगुण व तमोगुण युक्त शंखनिधि योग कहा है। इस योग में जन्मे जातक अपने पराक्रम से उपार्जित सुख-सम्पदा, यश-कीर्ति, भवन, धन, वाहन आदि का उपयोग स्वयं एक पीढ़ी तक ही करता है। कुटुम्बी जन पुत्र व भार्या को नहीं लिखा होता है। इस योग के कारण ही मोदी को भार्या व पुत्र सुख नहीं लिखा है। 

7. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जन्मकुंडली में रूचक नामक पंचमहापुरुष, राजयोग, विष्णुलक्ष्मी योग, नीचभंग राजयोग, गजकेसरी योग, केदार योग, पारिजात योग, शंखनिधि योग, वेशीयोग, मूसलयोग आदि योगों के करण मोदी का विजय रथ कोई नहीं रोक सकता है किंतु 2019 लोकसभा चुनाव में भाजपा अपने बल पर 272 बहुमत का जादुई आंकड़ा प्राप्त नहीं कर सकती है। पहले से 15 प्रतिशत सीटें कम आएंगी। एनडीए घटक दलों के सहयोग से जीत कर सरकार बनाएगी और नरेंद्र मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बनेंगे?

8. नोटबंदी, जीएसटी, महंगाई, विपक्ष का वार, विरोधियों द्वारा आलोचना व विरोध के बाद भी मोदी को प्रधानमंत्री बनने से कोई ताकत नहीं रोक सकती है। मोदी की उम्र 92 साल 3 माह 8 दिन होगी, इससे पहले कोई खतरा नहीं है।

9. मोदी की कुंडली में लग्न में चंद्र-मंगल युति से रूचक पंचमहापुरुष राजयोग, नीचभंग राजयोग, महालक्ष्मी योग, गजकेसरी जैसे मुख्य योगों का निर्माण करने वाले दोनों ग्रहों की महादशा भोगकाल में मोदी प्रधानमंत्री बने रहेंगे। अभी चंद्र की महादशा 28.11.2021 तक, फिर मंगल की महादशा 7 साल 27.11.2028 तक मोदी प्रधानमंत्री पद पर आसीन रहेंगे।

10. मोदी की कुंडली में 11वें भाव में कन्या का स्वराशि उच्च के बुध वाणी लाभ देता है। बृहस्पति की सामने राजभाव शुक्र पर दृष्टि होने से पत्नी सुख से वंचित है। 1975 आपातकाल के समय मोदी ने दो वर्षों तक हिमालय की कंदराओं में वैराग्य भाव से रहकर तप-साधना की है, इसी प्रभाव से चुनावों में जनसभाओं को आकर्षित करते हैं। तप-साधना व पुरुषार्थ का फल कभी खाली नहीं जाता है।

11. मोदी अपने प्रथम कार्यकाल में महंगाई, भ्रष्टाचार को काबू नहीं कर पाएंगे। आगामी लोकसभा चुनाव से पूर्व मोदी के निर्णय, नीतियों का विरोध व आलोचना के साथ काफी आरोप-प्रत्यारोप वाला खराब समय होगा?

12. मोदी के दूसरे कार्यकाल में शनि, बृहस्पति की दृष्टि धनु राशि पर रहते हुए अयोध्या में राम मंदिर निर्माण होगा तथा भारत विश्व गुरु बनने के लिए अग्रसर रहेगा। मोदी 100 देशों की यात्राओं का विश्व रिकॉर्ड बनाकर अपनी वाणी से भारत का डंका बजाएंगे। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पेट्रोल-डीजल के भाव तेज होंगे, सोना-चांदी के भाव भी तेज होंगे।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


भारत के इस तेज गेंदबाज ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): भारत के पूर्व तेज गेंदबाज परव...

गणेश चतुर्थी प्लास्टिक के बिना मनाएं : दीया मिर्जा

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): गणेश चतुर्थी का त्योहार सितंबर में मनाया जाता है। वहीं अभिनेत्...

top