Sunday, July 22,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
खेल

भारत को झटका, एशियाई गेम्स में भाग नहीं लेंगी मैरीकॉम

Publish Date: July 11 2018 04:56:57pm

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज) : पांच बार की विश्व चैंपियन और राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता भारतीय महिला मुक्केबाजी एमसी मैरीकॉम ने बुधवार को कहा कि उन्हें इस बात पर गर्व है कि उन्होंने अपने बच्चों को प्यार की जगह पदक दिए हैं। मैरीकॉम ने इस वर्ष अप्रैल में आस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में हुए राष्ट्रमंडल खेलों में लाइफ्लाई वेट 48 किग्रा में स्वर्ण पदक जीता था। मैरीकॉम ने कहा, चोट के कारण मैं एशियाई खेलों में हिस्सा नहीं ले पा रही हूं। पिछले एक महीने से मेरा इलाज चल रहा था और मैं अभी वापस ट्रेनिंग कर रही हूं। देश में ट्रेनिंग सिस्टम काफी अच्छा चल रहा है और मुझे भी इसका फायदा मिल रहा है। 

उन्होंने कहा, छह-सात साल पहले हम दो तीन घंटे अभ्यास करते थे लेकिन अब आज के समय में स्मार्ट ट्रेनिग होने से हमें इसका फायदा मिल रहा है। अब एक घंटे में अच्छे से ट्रेनिंग हो सकती है। इसलिए आज के समय में स्मार्ट ट्रेनिंग होनी चाहिए। कुछ सालों से मैं विश्व चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं ले रही थी लेकिन इस बार मैं इसके लिए तैयार हूं और फिट रही तो देश के लिए जरूर पदक जीतूंगी। 

मैरीकॉम ने यहां स्पेशल ओलम्पिक यूनीफाइड फुटबाल कप में हिस्सा लेने जा रही भारतीय स्पेशल महिला फुटबाल टीम के विदाई समारोह के दौरान यह बातें कही। स्पेशल ओलम्पिक यूनीफाइड फुटबाल कप का आयोजन 17 से 20 जुलाई तक अमेरिका के शिकागो में होने हैं। मैरीकॉम ने कहा, इस बार जब मैंने राष्ट्रमंडल खेंलों में स्वर्ण पदक जीतने के बाद अपने घर पर फोन किया तो मुझे घर वालों की खुशी का अहसास फोन पर ही हो गया था। बच्चे भी चाहते हैं कि उन्हें घर में मां का प्यार मिले, जो मैं उन्हें नहीं दे पाई। लेकिन मुझे लगता है कि मुझे इस गर्व होना चाहिए कि मैंने बच्चों को प्यार की जगह पदक दिये हैं। उन्होंने कहा, खेल तो कुछ समय के लिए है। इसके बाद मुझे पूरा जीवन घर पर ही रहना है तब मैं अपने बच्चों को मां का प्यार दूंगी। लेकिन उससे पहले मैंने जो भी पदक दिए हैं। उस पर मुझे गर्व है। यह मेरा नहीं, पूरे देश का पदक है और मेरे बच्चों को भी इससे खुशी होनी चाहिए। 

35 वर्षीय मैरीकॉम चोट के चलते अगले माह इंडोनेशिया के जकार्ता में होने जा रहे एशियाई खेलों में हिस्सा नहीं ले रही हैं। लेकिन उन्हें उम्मीद है कि वह अगले एआईबीए महिला विश्व चैंपियनशिप में देश के लिए जरुर पदक जीतेंगी। एआईबीए महिला विश्व चैंपियनशिप का आयोजन इस वर्ष भारत में 15 से 24 नवंबर के बीच होना है। 
 

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


भारतीय पहलवान सचिन राठी ने रचा इतिहास, 74 किग्रा फ्रीस्टाइल भारवर्ग में जीता गोल्ड

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज)- जूनियर एशियन चैंपियनशिप 2018 ...

12 साल बाद इस फिल्म में साथ काम करेंगे अजय देवगन व सैफ अली खान

मुंबई (उत्तम हिन्दू न्यूज): बॉलीवुड के छोटे नवाब सैफ अली खान सिल्वर स्क्रीन पर खलनायक का क...

top