Saturday, June 23,2018     ई पेपर
ब्रेकिंग न्यूज़
बिज़नेस

213 वस्तुएं हुईं सस्ती, रेस्टोरेंट में खाने पर अब देना होगा महज 5 प्रतिशत GST

Publish Date: November 10 2017 08:47:33pm

गुवाहाटी (उत्तम हिन्दू न्यूज) : वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) परिषद ने आम लोगों को बड़ी राहत देते हुए 28 फीसदी के स्लैब में शामिल 180 वस्तुओं समेत कुल 213 उत्पादों पर जीएसटी की दर घटाने के साथ ही अब सभी रेस्त्रां में एक समान पांच फीसदी जीएसटी करने का निर्णय लिया है। इसका मतलब है कि आप अब चाहे किसी भी रेस्‍टॉरेंट में खाना खाएं केवल आपको 5 प्रतिशत जीएसटी देना होगा। वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में आज यहां हुयी परिषद की 23वीं बैठक में ये निर्णय लिए गए। बैठक के बाद जेटली ने संवाददाताओं से कहा कि देशभर में सभी तरह के रेस्‍टॉरेंट पर केवल एक दर 5 प्रतिशत तय की गई है। वहीं आउटडोर कैटरिंग के लिए जीएसटी की दर 18 प्रतिशत तय की गई है। वहीं 7500 रुपए रूम रेंट वाले होटलों के लिए जीएसटी की दर 18 प्रतिशत रहेगी। उन्होंने कहा, लक्जरी उत्पादों के साथ सीमेंट और पेंट आदि सहित मात्र 48 वस्तु ही अब 28 फीसदी कर के दायरे में रह गए हैं। पहले 228 वस्तुयें इसमें शामिल थीं। उन्होंने बताया कि 178 उत्पादों पर कर की दर 28 फीसदी से घटाकर 18 फीसदी और दो उत्पादों पर 28 फीसदी से घटाकर 12 प्रतिशत करने का निर्णय लिया गया है। इसके साथ ही 13 उत्पादों को 18 प्रतिशत के स्लैब से से 12 प्रतिशत, छह उत्पादों को 18 प्रतिशत से पांच प्रतिशत और आठ उत्पादों को 12 प्रतिशत से पांच प्रतिशत के दायरे में लाया जायेगा। छह उत्पादों पर जीएसटी को पांच प्रतिशत से हटाकर शून्य प्रतिशत के दायरे में रखने का निर्णय लिया गया है।  ये सारे बदलाव अधिसूचना जारी होने के बाद 15 नवंबर से लागू होने की उम्मीद है। 

वित्त मंत्री ने कहा कि इसके साथ ही सभी प्रकार के स्टार श्रेणी के होटलों में बने रेस्त्रांओं को छोड़कर अन्य सभी रेस्त्रां में लगने वाली जीएसटी की दर को 18 प्रतिशत से कम कर पांच प्रतिशत कर दिया गया है। लेकिन, अब इन रेस्त्रांओं को इनपुट टैक्स क्रेडिट का लाभ नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि 7,500 रुपये से अधिक के दैनिक कमरे किराये वाले स्टार श्रेणी के होटलों के रेस्त्रां में 18 फीसदी ही कर लगेगा, लेकिन इस पर होटलों को इनपुट टैक्स क्रेडिट मिलेगा। जेटली ने कहा कि परिषद की पिछली तीन बैठकों में जीएसटी को तर्कसंगत बनाने पर जाेर दिया गया है। इसी क्रम में पहले की कुछ वस्तुओं पर जीएसटी दर में कमी की गयी थी और अाज परिषद ने कुल मिलाकर 213 वस्तुओं पर कर की दर में कमी लाने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि शुरुअात में सभी वस्तुओं पर जीएसटी से पूर्व लग रहे करों के आधार पर जीएसटी दर तय की गयी थी। कुछ ऐसी वस्तुयें भी है जिनको 28 फीसदी के दायरे में नहीं रखा जाना चाहिए था लेकिन पहले उस पर अधिक कर लगाये जाने की वजह से ऐसा हो गया था। छोटे स्तर पर बनाये जाने वाले भी कुछ उत्पादों पर 28 फीसदी जीएसटी लग रहा था लेकिन पहले उत्पाद शुल्क में छूट मिलने की वजह उन पर प्रभावी कर दर कम हो जाया करती थी। उन्होंने कहा कि रेस्त्रां ग्राहकों से 18 फीसदी जीएसटी वसूल रहे हैं, लेकिन उन्हें इनपुट टैक्स क्रेडिट का लाभ नहीं दिया जा रहा है। इसी के मद्देनजर सभी प्रकार के एसी तथा नॉन एसी रेस्त्रां में जीएसटी को कम कर पांच प्रतिशत कर दिया गया है और अब उनको इनपुट टैक्स् क्रेडिट नहीं मिलेगा। उन्होंने कहा कि आउटडोर कैटरिंग पर 18 फीसदी जीएसटी लगेगा, लेकिन इस पर इनपुट टैक्स क्रेडिट मिलेगा।

WhatsApp पर न्यूज़ Updates पाने के लिए हमारे नंबर 9814266688 को अपने Mobile में Save करके इस नंबर पर Missed Call करें ।


FIFA WC 2018 : ट्यूनीशिया को हराकर नॉकआउट में पहुंचा बेल्जियम

मॉस्को (उत्तम हिंदू न्यूज) : कप्तान ईडन हेजार्ड (6वें, 51वें ...

संजू के लिए रणबीर नहीं रणवीर को कास्ट करना चाहते थे विधु विनोद चोपड़ा

मुंबई (उत्तम हिंदू न्यूज) : बॉलीवुड फिल्मकार विधु विनोद चोपड़ा...

top