Wednesday, February 21, 2024
ई पेपर
Wednesday, February 21, 2024
Home » लाल चौक पर क्या, कश्मीर की गली-गली में आज फहरता है तिरंगा : अनुराग ठाकुर

लाल चौक पर क्या, कश्मीर की गली-गली में आज फहरता है तिरंगा : अनुराग ठाकुर

केंद्रीय मंत्री ने जम्मू-कश्मीर आरक्षण और पुनर्गठन संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान विपक्ष को घेरा
नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज)- केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण तथा खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने मंगलवार को जम्मू-कश्मीर आरक्षण और पुनर्गठन संशोधन विधेयक पर लोकसभा में चर्चा के दौरान हस्तक्षेप करते हुए विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर को लेकर नेहरू की गलतियों के कारण जो भूल हुई थी, उसे मोदी सरकार ने भारत की संसद में सुधारा। ठाकुर ने कहा कि यह कहा गया क्या हुआ धारा 370 -35 ए हटाने से ,मैं कह सकता हूं ऑन द फ्लोर ऑफ द हाउस की जो 70 साल तक यह लोग नहीं कर पाए अनुच्छेद 370 35 ए को हटाया भी और जब कोविड का समय था उस समय भी डीडीसी के चुनाव किसी ने जम्मू कश्मीर में करवाए तो यह मोदी सरकार की प्रतिबद्धता थी और सफल चुनाव हुए। अगर पंचायती राज के नुमाइंदो की बात करें न केवल चुने गए प्रधानमंत्री उनसे स्वयं मिले भी और यह सुनिश्चित भी किया कि कश्मीर के गांव गांव तक विकास भी कैसे हो।

उन्होंने कहा कि और यही नहीं यहां पर कहा गया कि इस परिवार का या उस परिवार का बहुत बड़ा योगदान है मैं उसमें नहीं जाना चाहता हूं। किसी को मैं किसी को कम नहीं करना चाहता लेकिन महाराजा हरि सिंह का ही नाम भूल गए जिन्होंने विलय पर साइन किया था। क्या उनका उसमें कोई योगदान नहीं होगा ? क्या सरदार पटेल जिन्होंने 553 रियासतों को भारत में जोड़कर आज मजबूत भारत की नींव किसी ने रखी है तो सरदार वल्लभभाई पटेल ने रखी है। जो कमियां नेहरू जी की गलती रह गई उसको सुधारने का काम अगर 5 अगस्त 6 अगस्त यहां पर देश की संसद में किया गया तो नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में उसे भूल को सुधार करने का काम भी भारत की सरकार ने संसद में किया।

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने विपक्ष को संबोधित करते हुए कहा कि आपने ठीक कहा किसी भी फौजी या पुलिस वाले की शहादत पर हम सबको उतना ही दुख होता है जितना आपको होता लेकिन उससे ज्यादा दुख मुझे उसे बात का कि 75 साल में 60 साल से ज्यादा आप सत्ता में रहे 45000 लोगों की मौत जम्मू कश्मीर में हुई जिसमें हजारों सैनिकों की भी मृत्यु हुई , शहादत हुई तब तक तो आप में से कोई नहीं बोला। 10 साल आप उस सरकार का हिस्सा रहे। हमारे फौजी भाई बुलेट प्रूफ जैकेट मांगते रहे 10 साल तक आप खरीद नहीं पाए शायद कमीशन को ढूंढ रहे होंगे। यह नरेंद्र मोदी जी की सरकार है जिसने मेक इन इंडिया ही सही बुलेट प्रूफ जैकेट 2 लाख से ज्यादा देने का काम किया है। अनुराग ठाकुर ने कहा कि आपने सुषमा जी और अरुण जेटली जी को याद किया। मैं इतना ही कहूंगा जब यह धारा 370- 35A हटाने का काम हुआ था मुझे आज भी याद है सुषमा जी ने प्रधानमंत्री जी को और अमित भाई को दोनों को बधाई दी थी, इतनी उत्सुक थीं और फोन पर बात की। मैं तो साक्षी हूं AIIMS अस्पताल भी गया था उसके बाद उन्होंने अंतिम समय में भी अपनी यह बात कही जो डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने युवा अवस्था में अपना मंत्री पद त्याग के यह कहा था कि एक देश में दो संविधान, दो विधान, दो प्रधान नहीं चल सकते आज हमारी सरकार ने मोदी जी के नेतृत्व में उसको पूरा करने का काम किया। मैं इतना ही कहूंगा कि वही सुषमा जी, अरुण जेटली जी यह नेता प्रतिपक्ष थे लोकसभा, राज्यसभा के और तिरंगा झंडा 26 जनवरी को लाल चौक पर फेराने की बात करते थे तब उस समय किसकी सरकार वहां पर थी। जेल में हमें डाल दिया गया था। अपराध केवल इतना था कि जम्मू कश्मीर में झंडा फहराने की बात की थी। पहले पथराव होते थे, लोगों को मारा जाता था, आज कोई पथराव धारा 370 और 35 (ए) हटने के बाद नहीं हो रहा है। मैं वर्ष 2011 की घटना बताता हूं। नेशनल कांफ्रेंस की सरकार थी, तिरंगा झंडा हमें नहीं फहराने दिया गया। लोकसभा और राज्यसभा के दो विपक्ष के नेताओं को जेल में डाला था। आज लाल चौक पर भी क्या, कश्मीर की गली-गली में तिरंगा झंडा फहराया जाता है। उन्होंने कहा कि और “यही नहीं यहाँ पर कहा गया सुप्रीम कोर्ट में पेंडिंग है। मैं कहना चाहता हूं क्या प्रतिबद्धता है कोई क्या हम लोग यहां पर कानून पास नहीं कर सकते और किसको उसको हक दिलाने का काम करे जिसको आपने हक नहीं दिलाया। उनको उनका हक भी दिलाया। अंत में मैं केवल इतना ही कहूंगा कि आज जिन परिवारों की आप बात कर रहे हैं पिछले कुछ सालों के आप पेपर पड़ेंगे तो कुछ बड़े-बड़े परिवारों को जो राजनीतिक घराने से हो उनको जमीन दे दी गई थी हमारी सरकार आने के बाद सरकारी जमीन है अब वापस सरकार को दिलाई लेकिन गरीबों से उनके हक नहीं छीने।

GNI -Webinar

@2022 – All Rights Reserved | Designed and Developed by Sortd