Sunday, April 14, 2024
ई पेपर
Sunday, April 14, 2024
Home » केजरीवाल के iPhone को अनलॉक करने से Apple ने किया इनकार, फोन डाटा के लिए ED ने कंपनी से किया था संपर्क

केजरीवाल के iPhone को अनलॉक करने से Apple ने किया इनकार, फोन डाटा के लिए ED ने कंपनी से किया था संपर्क

नई दिल्ली (उत्तम हिन्दू न्यूज): अमेरिका स्थित एप्पल कंपनी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आईफोन को अनलॉक करने से इस आधार पर इनकार कर दिया है कि डेटा तक केवल डिवाइस के मालिक द्वारा सेट किए गए पासवर्ड से ही पहुंचा जा सकता है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के एक सूत्र के अनुसार, ईडी ने आबकारी नीति घोटाले मामले की जांच के तहत केजरीवाल के फोन तक पहुंचने का अनुरोध करते हुए “अनौपचारिक तरीके से” एप्पल से संपर्क किया था, लेकिन कंपनी ने इनकार कर दिया।

सूत्र ने कहा, “हालांकि, कोई लिखित संदेश नहीं दिया गया, लेकिन ऐप्पल को केजरीवाल का फोन खोलने में मदद करने के लिए कहा गया था क्योंकि जांच में मदद चाहिए थी, लेकिन अनुरोध को अस्वीकार कर दिया गया।” हालांकि, यह पहली बार नहीं है कि एप्पल ने एजेंसी को इस तरह इनकार किया हो। केजरीवाल को उनके आवास पर घंटों पूछताछ के बाद अब खत्म हो चुकी आबकारी नीति मामले में 21 मार्च की रात को गिरफ्तार किया गया। अपनी गिरफ्तारी की रात, सीएम ने कथित तौर पर अपना आईफोन बंद कर दिया था और पासवर्ड साझा करने से इनकार कर दिया।

सूत्रों के मुताबिक, केजरीवाल ने कहा कि उनके मोबाइल फोन डेटा और चैट तक पहुंच कर ईडी को AAP की “चुनावी रणनीति” और गठबंधन के बारे में जानकारी मिल जाएगी। ईडी ने अदालत को बताया है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री 23 से 27 मार्च के बीच हर दिन दर्ज किए गए पांच बयानों में “गोलमोल जवाब” दे रहे हैं।

ईडी के सूत्रों ने कहा कि एजेंसी के पास यह स्थापित करने के लिए “पर्याप्त सबूत” और “अन्य आरोपियों के बयान” हैं कि केजरीवाल ने दिल्ली में शराब व्यापार में लाभ के बदले भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) एमएलसी के कविता से 100 करोड़ रुपये मांगे थे। ईडी के मुताबिक, केजरीवाल को इस बात की जानकारी थी कि कैसे रिश्वत के बदले में लाइसेंस धारकों को लाइसेंस शुल्क में छूट और कटौती और एल-1 लाइसेंस के विस्तार जैसे अनुचित लाभ दिए जा रहे थे।

GNI -Webinar

@2022 – All Rights Reserved | Designed and Developed by Sortd